Coronavirus: जॉर्डन के इस म्यूजिशियन ने हजारों लोगों के लिए आसान कर दिया Quarantine में रहना, देखें Video

जॉर्डन का एक म्यूजिशियन फिलहाल हजारों लोगों के साथ क्वॉरन्टीन में है और हर रात अपने संगीत से लोगों के लिए इस मुश्किल वक्त को आसान बना रहा है.

Coronavirus: जॉर्डन के इस म्यूजिशियन ने हजारों लोगों के लिए आसान कर दिया Quarantine में रहना, देखें Video
फोटो साभार: फेसबुक

अम्मान: कोरोना वायरस के फैलाव ने जहां पूरी दुनिया में तबाही मचाई हुई है, वहीं एक शख्स ऐसा भी है, जिसे इस महामारी की वजह से ही परफॉर्म करने के लिए एक नया स्टेज मिला है. ये हैं- 19 साल के म्यूजिशियन जायद अबू हिज्लेह.

अबू मेडिकल स्टूडेंट हैं और सैक्सोफोन बजाना उनका शौक है. फिलहाल वो जॉर्डन के डेड सी (Dead Sea) के होटल में हजारों लोगों के साथ क्वॉरन्टीन (quarantine) में रह रहे हैं. वह हर रात ऐसी आॅडियंस के लिए सैक्सोफोन बजाते हैं, जो लॉकडाउन में है. 

जब वो अपने होटल के courtyard में म्यूजिक बजाते हैं, तो इसका संगीत वहां रह रहे लोगों को मंत्रमुग्ध कर देता है. क्वॉरन्टीन में रह रहे लोग बालकनी और खिड़कियों से इन धुनों को सुनते हैं और तालियों से उनका हौसला बढ़ाते हैं. 

अबू को इस होटल में पिछले हफ्ते राजधानी के मुख्य एयरपोर्ट से यहां लाया गया था. यहां की सरकार कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने कड़े कदम उठा रही है. जॉर्डन के जितने लोग बाहर के देशों से आ रहे हैं. उन्हें इसी होटल में ​रखा जा रहा है. दो हफ्तों तक यही उनका घर है.

अबू जो 12 सालों से संगीत से जुड़े, वह कहते हैं कि आइसोलेशन में वो खुद को बिजी रखना चाहते हैं. 

ये भी पढ़ें: कोरोना ने इटली में ढाया अब तक सबसे ज्‍यादा कहर, लेकिन अब दिखी उम्‍मीद की किरण

वह कहते हैं, ' जब आप क्वॉरन्टीन में 14 दिन तक रहते हैं और आपको किसी से मिलना जुलना नहीं होता तब आपको मोटिवेशन और पॉजिटिव एनर्जी की जरूरत होती है. इससे आपके मन में सकारात्मक विचार आते हैं. क्वॉरन्टीन में रहकर संगीत एक कमाल का आइडिया था. मैं आम तौर पर हर दिन दो से तीन घंटे सैक्सोफोन बजाने की प्रैक्टिस करता हूं, तो मैंने सोचा कि क्यों न प्रैक्टिस के साथ साथ लोगों के परफॉर्म भी करूं, जिससे वो मैं क्या बजाता हूं, वो सुन सकें. '

उन्होंने बताया, पहले दिन जब मैंने परफॉर्म किया, तब लोगों ने मेरी वीडियो बनाई औेर इसे सोशल मीडिया पर ​पोस्ट कर दिया. इस वीडियो को लोगों की बहुत अच्छी प्रतिक्रिया मिली. मैंने देखा कि इसकी डिमांड है. इसके बाद ही मैंने तय किया कि मैं अपने संगीत से लोगों का मनोरंजन करूंगा, जिससे इस मुश्किल वक्त में वो खुश रह सकें. और इस तरह मेरी प्रैक्टिस भी हो जाएगी.

जहां जायद को रखा गया है, होटल का ये कमरा क्वॉरन्टीन में बदल गया है. अबू रूम सर्विस से बस खाना लेने के लिए अपने कमरे का दरवाजा खोलते हैं. 

अबू कहते हैं, 'ये बहुत मुश्किल वक्त है. लोग अपने घर और परिवारवालों से दूर हैं. मैं अपनी बात करूं तो जब मैं म्यूजिक बजाता हूं, तो मेरे भीतर से एक निगेटिव एनर्जी रिलीज होती है. मैं भी अपने परिवार से दूर हूं और इस वक्त सिर्फ म्यूजिक ही है, जिससे मैं खुद को पॉजिटिव महसूस करवा सकता हूं.

जॉर्डन में कोरोना वायरस के 99 पॉजिटिव मामले हैं. वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय ने चेतावनी दी है कि संक्रमितों की संख्या बढ़ सकती है.