Celebrity Nutritionist Rujuta Diwekar से जानिए दही-किशमिश के फायदे और उसे बनाने का तरीका
X

Celebrity Nutritionist Rujuta Diwekar से जानिए दही-किशमिश के फायदे और उसे बनाने का तरीका

ब्रेकफास्ट और लंच के बीच हल्की भूख लगने पर बिस्किट और नमकीन का सेवन करने से बचना चाहिए. मिड मील (Mid Meal) के तौर पर दही किशमिश (Dahi Kishmish) का सेवन करना ज्यादा फायदेमंद (Curd Raisins Benefits) रहता है. रुजुता दिवेकर (Rujuta Diwekar) से जानिए, दही किशमिश के फायदे और उसे बनाने का तरीका.

Celebrity Nutritionist Rujuta Diwekar से जानिए दही-किशमिश के फायदे और उसे बनाने का तरीका

नई दिल्ली: बॉलीवुड (Bollywood) के कई सितारे न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर (Rujuta Diwekar) की सलाह पर अपना खान-पान (Diet) तय करते हैं. रुजुता दिवेकर सोशल मीडिया पर फैंस के लिए भी डाइट की जरूरी गाइडलाइंस शेयर करती रहती हैं. कुछ दिनों पहले उन्होंने दही-किशमिश के फायदे (Dahi Kishmish Ke Fayde) बताते हुए उसे बनाने और खाने का सही तरीका बताया था.

मिड मील में करें दही-किशमिश का सेवन

कई बार ब्रेकफास्ट और लंच के बीच में काफी गैप हो जाता है, जिसकी वजह से बीच में तेज भूख लग जाती है. ऐसे में आमतौर पर लोग बिस्किट, चिप्स या दालमोठ जैसी चीजों का सेवन कर लेते हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें, ये चीजें हमारी सेहत (Health) के लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं होती हैं और मोटापे (Obesity) व अन्य लाइफस्टाइल डिसऑर्डर्स (Lifestyle Diseases) का कारण बन जाती हैं.

सेलेब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर (Celebrity Nutritionist Rujuta Diwekar) के अनुसार, किसी भी मील के पहले भूख लगने पर हेल्दी चीजों का सेवन करना चाहिए. रुजुता सुबह 11 बजे मिड मील (Mid Meal) के तौर पर दही-किशमिश (Curd Raisins Benefits) का सेवन करती हैं.

यह भी पढ़ें- Food Storage Tips: Fridge में क्या स्टोर करें? ब्रेड, पनीर, अंडे से लेकर सब्जियों तक की होती है Expiry Date

डायबिटीज में फायदेमंद है दही-किशमिश

डायबिटीज (Diabetes) और पीसीओडी (PCOD) जैसी लाइफस्टाइल बीमारियों (Lifestyle Diseases) से छुटकारा पाना आसान नहीं होता है. इन दोनों में ही अपनी डाइट (Diet) और एक्सरसाइज (Exercise) का खास ख्याल रखना पड़ता है. रुजुता दिवेकर (Rujuta Diwekar) की सलाह के अनुसार, थायरॉइड (Thyroid), पीसीओडी (PCOD) और डायबिटीज (Diabetes) जैसी बीमारियों में भी दही और किशमिश (Curd Raisins) का सेवन किया जा सकता है.

इससे आपको कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा, बल्कि ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) और वजन को नियंत्रित (Weight Loss) करने में मदद मिलेगी.

यह भी पढ़ें- Deepika Padukone Diet Plan Exclusive: फिट रहने के लिए अपनाएं दीपिका का डाइट प्लान, जानिए Dietician की सलाह

घर में कैसे बनाएं दही-किशमिश

घर में दही-किशमिश (Dahi Kishmish) बनाना बहुत आसान है. अगर आप कॉलेज या ऑफिस जाते हैं तो हल्की भूख में पेट भरने के लिए इसे साथ लेकर जाएं. जानिए बनाने का तरीका (Dahi Kismish Recipe).

1. एक कटोरी में गर्म फुल फैट दूध लें.

2. उसमें 5-6 काली किशमिश डालें. आप चाहें तो हरी किशमिश भी डाल सकते हैं.

3. फिर इसमें 1 बूंद दही डालें. दूध को अच्छी तरह से मिक्स करें.

4. रुजुता की सलाह मानते हुए इस मिश्रण को 32 बार मिलाएं.

5. फिर इसे 8-12 घंटों के लिए ढक कर रख दें.

इसकी टॉप लेयर गाढ़ी नजर आने लगे तो दही-किशमिश का सेवन कर लें.

यह भी पढ़ें- पड़ोसी के बर्तनों को खाली नहीं लौटाते हैं तो पक्का Middle Class से हैं आप, जानिए ऐसी ही कुछ रोचक बातें

सर्दियों में भी खा सकते हैं दही

कई लोग सर्दियों के मौसम में दही (Curd) का सेवन करने से बचते हैं. रुजुता दिवेकर की मानें तो सर्दियों में भी दही का सेवन किया जा सकता है. इस मौसम में दही का सेवन करने में बस इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि दही घर का हो. बेहतर रहेगा कि आप बाजार के दही का सेवन न करें.

लाइफस्टाइल से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Video-

Trending news