close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: दूसरे चरण में 173 उम्मीदवारों ने किया नामांकन, जयपुर में सबसे अधिक नामांकन

लोकसभा आम चुनाव 2019 के दूसरे चरण के नामांकन के आखिरी दिन 12 लोकसभा सीटों के लिए 173 उम्मीदवारों ने 229 नामांकन पत्र दाखिल किए हैं. सबसे ज्यादा जयपुर लोकसभा क्षेत्र में 34 उम्मीदवारों ने 41 नामांकन पत्र और सबसे कम करौली-धौलपुर लोकसभा क्षेत्र में 5 उम्मीदवारों ने 8 नामांकन दाखिल किए हैं. 

राजस्थान: दूसरे चरण में 173 उम्मीदवारों ने किया नामांकन, जयपुर में सबसे अधिक नामांकन
22 अप्रैल तक नाम वापस लिए जा सकेंगे. (फाइल फोटो)

जयपुर: लोकसभा आम चुनाव 2019 के दूसरे चरण के नामांकन के आखिरी दिन 12 लोकसभा सीटों के लिए 173 उम्मीदवारों ने 229 नामांकन पत्र दाखिल किए हैं. सबसे ज्यादा जयपुर लोकसभा क्षेत्र में 34 उम्मीदवारों ने 41 नामांकन पत्र और सबसे कम करौली-धौलपुर लोकसभा क्षेत्र में 5 उम्मीदवारों ने 8 नामांकन दाखिल किए हैं. 

आपको बता दें कि, 20 अप्रैल को प्राप्त नामांकन पत्रों की जांच होगी और 22 अप्रैल तक नाम वापस लिए जा सकेंगे. उसके बाद मैदान में बचे उम्मीदवारों की तस्वीर साफ हो सकेगी. इन सभी सीटों के लिए 6 मई को सुबह 7 बजे से 6 बजे तक मतदान होगा.

12 लोकसभा क्षेत्रों में होगा मतदान
इस संबंध में मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने बताया कि दूसरे चरण में 12 लोकसभा क्षेत्रों श्रीगंगानर, बीकानेर, चूरू, झुंझूनूं, सीकर, जयपुर ग्रामीण, जयपुर, अलवर, भरतपुर, करौली-धौलपुर, दौसा और नागौर में 6 मई को मतदान होगा. इन 12 लोकसभा सीटों के 23 हजार 783 मतदान केंद्रों पर 2 करोड़ 30 लाख से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे.

10 अप्रैल से हो रहा था नामांकन
उन्होंने यह भी बताया कि अधिसूचना के अनुसार 10 अप्रैल से नामांकन पत्र दाखिल करने का सिलसिला शुरू हुआ, जो 18 अप्रैल तक जारी रहा. इस दौरान लोकसभा क्षेत्र श्रीगंगानiर में 11 उम्मीदवारों ने 17 नामांकन पत्र, बीकानेर में 12 उम्मीदवारों ने 19 नामांकन पत्र, चूरू में 17 उम्मीदवारों ने 21 नामांकन पत्र, झुंझूनूं में 17 उम्मीदवारों ने 17 नामांकन पत्र, सीकर में 17 उम्मीदवारों ने 21 नामांकन पत्र, जयपुर ग्रामीण में 11 उम्मीदवारों ने 16, जयपुर में 34 उम्मीदवारों ने 41, अलवर में 13 उम्मीदवारों ने 18 नामांकन पत्र, भरतपुर में 10 उम्मीदवारों ने 14, करौली-धौलपुर में 5 उम्मीदवारों ने 8, दौसा में 12 उम्मीदवारों ने 19 और नागौर में 14 उम्मीदवारों ने 18 नामांकन पत्र दाखिए किए हैं. 

मतदाता पहचान पत्र के साथ 11 अन्य दस्तावेज है मान्य
लोकसभा चुनाव में मतदाता केवल वोटर स्लिप के आधार पर मतदान नहीं कर सकेंगे. मतदान के लिए मतदाता को इपिक कार्ड (मतदाता फोटो युक्त पहचान पत्र) दिखाना होगा. इपिक कार्ड नहीं होने की स्थिति में 11 अन्य वैकल्पिक दस्तावेजों में से किसी एक को दिखाने पर ही मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे. 

आयोग के निर्देशानुसार इस बार के लोकसभा चुनाव में इपिक कार्ड के अलावा पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेन्स, राज्य या केन्द्र सरकार, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों, पब्लिक लिमिटेड कम्पनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किए गए फोटोयुक्त सेवा पहचान पत्र, बैकों या डाकघरों द्वारा जारी की गई फोटोयुक्त पासबुक, पेन कार्ड, आरजीआई एवं एन.पी.आर द्वारा जारी किए गए स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना द्वारा जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, विधायकों, सांसदों को जारी किए सरकारी पहचान पत्र या आधार कार्ड में से कोई एक दस्तावेज को मतदान करते समय दिखाना जरूरी होगा. मतदाता पर्ची पहचान का आधार नहीं मानी जाएगी.