राजस्थान: 'आतंकवाद पर प्रहार, मजबूत सरकार' के नारे के साथ लोकसभा चुनाव में उतरेगी BJP

राजस्थान: 'आतंकवाद पर प्रहार, मजबूत सरकार' के नारे के साथ लोकसभा चुनाव में उतरेगी BJP

राज्य बीजेपी के सूत्रों के अनुसार, इस बार भी विधानसभा चुनाव के तर्ज पर राज्य भर में कार्यक्रम होने जा रहा है. 

राजस्थान: 'आतंकवाद पर प्रहार, मजबूत सरकार' के नारे के साथ लोकसभा चुनाव में उतरेगी BJP

जयपुर: लोकसभा चुनाव 2019 का शंखनाद राज्य में हो चुका है. आम लोगों के बीच राजस्थान बीजेपी ने अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं की सक्रियता को बढ़ा दिया है. इस चुनाव के दौरान भी बीजेपी कार्यकर्ता पुरानी रणनीति के आधार पर चुनाव प्रचार करने जा रहे हैं. यही बात राज्य के चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर भी कह रहे है. 

राज्य बीजेपी के सूत्रों के अनुसार, इस बार भी विधानसभा चुनाव के तर्ज पर राज्य भर में कार्यक्रम होने जा रहा है. बीजेपी का दावा है कि पार्टी कार्यकर्ता PM नरेंद्र मोदी की सरकार को दूबारा सत्ता में लाने के लिए काफी उत्साहित है. इस बार बीजेपी सभी मोर्चे पर खुद को मजबूत करने में जुट गई है. 

राजस्थान में जनसंपर्क अभियान शुरू

मीडिया से बातचीत में पूर्व मंत्री और बीजेपी नेता वासुदेव देवनानी ने बताया कि चुनाव अभियान के तहत पार्टी के कार्यक्रम शुरू भी हो चुके हैं और कार्यकर्ताओं में नये अभियान को लेकर जोश भी दिख रहा है. इस दौरान भी लाभार्थियों से भी सम्पर्क किया जाएगा. जिसको देखते हुए इस बार बीजेपी ने अपने चुनाव प्रचार अभियान में मेरा परिवार-बीजेपी का परिवार, वाहन रैली और इसके साथ ही मेरा बूथ-सबसे मजबूत अभियान को प्रमुख जगह दी है. 

उन्होंने यह भी बताया कि पिछले तीन महीने में बहुत कुछ बदल गया है. इस बार केन्द्र की योजनाओं के साथ ही राष्ट्रवाद और मजबूत सरकार बनाम मजबूर सरकार का मुद्दा भी बड़ा खास रहेगा. 

आतंकवाद पर प्रहार, मजबूत सरकार के नारे के साथ लड़ेंगे चुनाव 

बीजेपी नेताओं का मानना है कि लोग देश में खिचड़ी सरकार को बिल्कुल पसन्द नहीं करेंगे. देवनानी ने कहा कि आतंकवाद पर प्रहार, देश की सुरक्षा और मोदी की अगुवाई में मजबूत सरकार के मुद्दे विधानसभा चुनाव के दौरान नहीं था. लिहाजा इस बार लोकसभा के नतीजे पूरी तरह अलग होंगे.  

कांग्रेस ने किया पलटवार

वहीं, बीजेपी के चुनावी अभियान की तैयारियों के पैटर्न को देखकर कांग्रेस ने भी कटाक्ष किया है. कांग्रेस की प्रदेश उपाध्यक्ष अर्चना शर्मा ने कहा है कि अगर विपक्षी पार्टी विधानसभा की तर्ज पर ही अपना अभियान चला रही है तो नतीजे भी विधानसभा चुनाव वाले हीं दिखेंगे.

Trending news