धनबाद में अमित शाह बोले- 'गर्मी में तापमान बढ़ते ही छुट्टियों पर चले जाते हैं राहुल गांधी'

बीजेपी अध्यक्ष ने राहुल गांधी का मजाक उड़ाते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष गर्मी में तापमान बढ़ते ही छुट्टियों पर चले जाते हैं.

धनबाद में अमित शाह बोले- 'गर्मी में तापमान बढ़ते ही छुट्टियों पर चले जाते हैं राहुल गांधी'
बीजेपी उम्मीदवार के पक्ष में अमित शाह ने की रैली. (तस्वीर- @AmitShah)

धनबाद : देश में जारी लोकसभा चुनावों के बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) एक बार फिर से सत्ता में आने दावा करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को कहा कि देश के लोग पसंद और संस्कृति से अलग अलग हैं लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पक्ष में अपने नारों से एकजुट हैं. शाह ने यहां एक रैली में कहा कि कांग्रेस जो 55 साल में नहीं कर पाई वो मोदी नीत सरकार ने गरीबों के कल्याण के लिए पिछले पांच साल में कर दिखाया है. 

उन्होंने कहा, 'मैंने चुनाव प्रचारों के लिए लगभग सभी राज्यों का दौरा किया है. देश भर के लोगों की पसंद और संस्कृति अलग-अलग है लेकिन हर जगह एक बात समान है और वह है मोदी के पक्ष में लगने वाले नारे.'

बीजेपी अध्यक्ष ने राहुल गांधी का मजाक उड़ाते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष गर्मी में तापमान बढ़ते ही छुट्टियों पर चले जाते हैं.

उन्होंने कहा, 'एक तरफ आपके पास मोदी हैं जिन्होंने 20 साल में एक भी छुट्टी नहीं ली है. वहीं दूसरी तरफ राहुल गांधी हैं जो लंबी छुट्टी के लिए अज्ञात स्थानों पर चले जाते हैं, जिसके बारे में उनकी मां को भी पता नहीं होता है.' 

साथ ही शाह ने कहा कि लोग 'ऐसे नेता की तलाश कर रहे हैं जो देश के प्रति अपना जीवन समर्पित करे न कि अपने परिवार का हित साधे.' उन्होंने कहा, 'मोदी नीत सरकार ने गरीबों के लिए जो पांच साल में किया है वह कांग्रेस 55 साल में भी नहीं कर पाई.' 

उन्होंने अपनी पार्टी के केंद्र में फिर से सत्ता में आने पर घुसपैठियों को देश से बाहर निकालने की बात दोहराते हुए कहा, 'जब घुसपैठियों को बाहर निकालने के लिए एनआरसी लाया गया, राहुल बाबा और कंपनी ने मानवाधिकारों का मुद्दा उठाया. मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि जब बेकसूर जवानों को मारा जा रहा था और उनका परिवार भुगत रहा था तब उनकी चिंता कहां गई थी?' 

झारखंड में राजग सरकार की विकास पहलों के बारे में बीजेपी प्रमुख ने कहा कि उनकी सरकार ने हजारीबाग और दुमका में मेडिकल कॉलेज खोले, रांची में कैंसर अस्पताल स्थापित किया और पतरातु में 4,000 मेगावॉट का ऊर्जा संयंत्र शुरू किया. 

शाह ने कहा, '13वें वित्त आयोग में यूपीए सरकार ने झारखंड के विकास के लिए 55,253 करोड़ रुपये आवंटित किए थे. मोदी सरकार ने राज्य को पांच सालों में तीन लाख करोड़ रुपये से ऊपर की राशि दी है.’’