close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केजरीवाल के आरोपों पर BJP का पलटवार, कहा- सस्ती लोकप्रियता की राजनीति कर रहे हैं सीएम

केजरीवाल ने कहा, ‘‘भाजपा एक न एक दिन मेरे खुद के पीएसओ से मेरी हत्या करा देगी जैसे कि इंदिरा गांधी की हत्या हुई थी. मेरे खुद के सुरक्षा अधिकारी भाजपा को रिपोर्ट करते हैं.’’

केजरीवाल के आरोपों पर BJP का पलटवार, कहा- सस्ती लोकप्रियता की राजनीति कर रहे हैं सीएम
फाइल फोटो

नई दिल्ली: दिल्ली भाजपा ने शनिवार को मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल पर आरोप लगाया कि वह सुरक्षा के ‘‘गंभीर’’ मुद्दे पर राजनीति कर रहे हैं और ‘‘सस्ती लोकप्रियता’’ के लिए भगवा दल के खिलाफ झूठे आरोप लगा रहे हैं. भाजपा की यह टिप्पणी तब आई जब केजरीवाल ने दावा किया कि भगवा दल से उन्हें जान का खतरा है. भगवा दल ने सवाल किया कि यदि केजरीवाल को अपने निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) की निष्ठा पर संदेह है तो आम आदमी पार्टी (आप) ने पुलिस में शिकायत क्यों नहीं दर्ज कराई.

भाजपा की प्रतिक्रिया तब आई जब केजरीवाल ने कहा, ‘‘भाजपा एक न एक दिन मेरे खुद के पीएसओ से मेरी हत्या करा देगी जैसे कि इंदिरा गांधी की हत्या हुई थी. मेरे खुद के सुरक्षा अधिकारी भाजपा को रिपोर्ट करते हैं.’’ केजरीवाल ने पंजाब में एक समाचार चैनल से कहा, ‘‘भाजपा मेरी जान के पीछे पड़ी है, एक न एक दिन वह मेरी हत्या करा देगी.’’ दिल्ली विधानसभा में नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने केजरीवाल की टिप्पणी की निन्दा की.

गुप्ता ने कहा, ‘‘चार मई को खुद पर थप्पड़ पड़ने से पहले केजरीवाल ने अपने लाइजनिंग अफसर से कहा था कि वह उनके वाहन की सुरक्षा हटा दें. उनका निर्देश रोजनामचे में दर्ज है, जिसका मैंने पूर्व में खुलासा किया था. चुनाव में इस घटना (थप्पड़ मारे जाने) का लाभ उठाने में विफल रहने के बाद केजरीवाल अब कह रहे हैं कि उनका पीएसओ भाजपा को रिपोर्ट करता है.’’ भाजपा नेता ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि केजरीवाल सुरक्षा जैसे गंभीर मामले को हल्के में ले रहे हैं और मीडिया में बयानबाजी कर राजनीति कर रहे हैं. 

उन्होंने कहा, ‘‘यदि उन्हें अपने पीएसओ पर भरोसा नहीं है और उसकी निष्ठा पर संदेह है तो उन्हें तत्काल इस बारे में पुलिस को अवगत कराना चाहिए था और अपने पीएसओ को हटवा देना चाहिए था.’’ गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल ने पुलिस को कोई शिकायत नहीं की है. वह केवल सस्ती लोकप्रियता हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं और मीडिया में इस तरह की बयानबाजी कर लोगों का ध्यान भटका रहे हैं.