close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: रैली में मायावती ने सपा कार्यकर्ताओं को दी हिदायत, कहा-आप लोगों को बसपा से सीखने की जरूरत

सपा—बसपा—रालोद गठबंधन के शीर्ष नेताओं ने फ‍िरोजाबाद और रामपुर में साझा रैली की. इसी में मायावती ने सपा के कार्यकर्ताओं को समझाइश दे दी.

VIDEO: रैली में मायावती ने सपा कार्यकर्ताओं को दी हिदायत, कहा-आप लोगों को बसपा से सीखने की जरूरत
file photo

फिरोजाबाद/रामपुर: सपा—बसपा—रालोद गठबंधन के शीर्ष नेताओं ने शनिवार को संयुक्त रैलियों में भाजपा पर जमकर निशाना साधा. यहां पर बसपा प्रमुख मायावती, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और रालोद मुखिया चौधरी अजित सिंह ने फिरोजाबाद और रामपुर में गठबंधन प्रत्याशियों के समर्थन में आयोजित संयुक्त रैलियों को सम्बोधित किया. मायावती ने सभा को संबोधित करते हुए सपा कार्यकर्ताओं को हिदायत भी दे डाली.

उन्‍होंने फि‍रोजाबाद में रैली को संबोधित करते हुए आप लोग जो बीच में नारेबाजी करते हैं, हल्‍ला करते हैं, आप लोगों को बसपा के लोगों से सीखने की जरूरत है. सपा के लोगों को अभी बीएसपी के लोगों से बहुत कुछ सीखना है.  मायावती ने कहा कि केंद्र की भाजपा और कांग्रेस की सरकारों ने झूठे वायदे कर लोगों को लूटा है. भाजपा का 'सबका साथ, सबका विकास' का नारा जुमलेबाजी बनकर रह गया है. इसी तरह के प्रलोभन भरे चुनावी वायदे कांग्रेस भी कर रही है. अब दोनों को सबक सिखाने का समय आ गया है.

उन्होंने कहा कि केंद्र की वर्तमान भाजपा सरकार जातिवाद और सम्प्रदायवाद पर चलकर आम जनता की समस्याओं पर कोई ध्यान नहीं दे रही है. यह जुमलेबाजों की सरकार है और जुमलों के सहारे ही दोबारा सत्ता में आना चाहती है.

मायावती ने कहा कि केंद्र में गठबंधन की सरकार बनी तो सरकारी और गैरसरकारी संस्थानों में गरीबों को स्थायी रोजगार दिया जायेगा. गठबंधन की सरकार 'सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय' की नीति पर काम करेगी. बसपा अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि केन्द्र भाजपा सरकार अपने विरोधियों का मुंह बंद करने के लिये सीबीआई, ईडी और आयकर विभाग का दुरूपयोग कर रही है और यह सिलसिला जारी है. अब हमें यह किसी भी कीमत पर नहीं होने देना है.

अख‍िलेश ने बीजेपी और कांग्रेस पर किए हमले
सपा अध्यक्ष अखिलेश ने भी इन रैलियों में भाजपा और कांग्रेस पर तीखे वार किये. उन्होंने कहा कि अगर देश में युवाओं के सपनों को किसी ने मारा है तो वह कांग्रेस और बीजेपी की सरकारें हैं. अखिलेश ने फिरोजाबाद से सपा प्रत्याशी अक्षय यादव के खिलाफ चुनाव लड़ रहे अपने चाचा प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव पर कटाक्ष करते हुए कहा 'फिरोजाबाद से चुनाव लड़ने वाले एक नेता कह रहे हैं कि हमने उनको घर से निकाल दिया. सचाई यह है कि वह भाजपा के साथ मिलकर काम कर रहे हैं. वह रात में भाजपा के नेताओं से मिलते हैं और उन्हीं के सहारे अपनी राजनैतिक लड़ाई लड़ना चाहते हैं.'

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर देश की मात्र एक फीसद आबादी के प्रधानमंत्री बनकर रह जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि आज देश के 99 प्रतिशत लोग मोदी की सरकार से परेशान हैं. जनता को इस नामदार चौकीदार की चौकीदारी छीननी होगी. क्या आपको ऐसी सरकार चाहिये, जो किसानों का हक छीनने का काम कर रही है? पहले दो चरणों के चुनावों में जो रुझान दिखाई पड़े हैं, उनके हिसाब से भाजपा का खाता नहीं खुलने जा रहा है.

अखिलेश ने कहा, 'पांच साल की दिल्ली की सरकार और दो साल की उत्तर प्रदेश की सरकार ने हर वर्ग के लोगों को दुखी किया है. लोकतंत्र में जो जनता को दुख देते हैं, समय आने पर जनता उनसे हिसाब भी लेती है. भाजपा के लोग नये देश की बात कर रहे हैं लेकिन महागठबंधन कह रहा है कि जब नया प्रधानमंत्री बनेगा, तभी जाकर नया देश बनेगा.'

अज‍ित सि‍ंह ने बेरोजगारी पर घेरा
रालोद अध्यक्ष अजित सिंह ने कहा कि हमें भाजपा को इतनी बुरी तरह हराना है कि मोदी को गुजरात वापस जाना पड़े. खुद को फकीर कहने वाले मोदी के पिछले पांच साल के कार्यकाल में देश में इस कदर बेरोजगारी बढ़ी है कि रोजगार के नाम पर प्रार्थना पत्र भरवाये जाते हैं, रूपये इकट्ठे किये जाते हैं, परीक्षाएं करायी जाती हैं, लेकिन ना परिणाम आता है और ना ही नियुक्ति पत्र.

उन्होंने किसानों को सलाह दी कि वे अगले तीन दिन तक टेलीविजन ना देंखे क्योंकि उस पर झूठ दिखाया जा रहा है. किसान अपना हक मांगने के लिये दिल्ली पहुंचे तो वहां उन्हें घुसने नहीं दिया गया. आप भी भाजपा के एक भी सांसद को दिल्ली में मत घुसने देना. सिंह ने यह भी कहा कि अगर यह मोदी श्रीलंका जाएंगे तो वहां जाकर भी यह दावा करेंगे कि रावण को मैंने ही मारा था.