close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली में कांग्रेस-AAP गठबंधन की उम्मीद, 4-3 के फॉर्मूले पर बन सकती है सहमति

दिल्ली में आप से गठबंधन को लेकर राहुल गांधी ने की शीला दीक्षित और पीसी चाको से मुलाकात की है. 

दिल्ली में कांग्रेस-AAP गठबंधन की उम्मीद, 4-3 के फॉर्मूले पर बन सकती है सहमति
फाइल फोटो

नई दिल्ली : लोकसभा चुनावों के लिए एक बार फिर दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन पर बातचीत हो सकती है. सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक, दिल्ली में आप से गठबंधन को लेकर राहुल गांधी ने की शीला दीक्षित और पीसी चाको से मुलाकात की है. दिल्ली के शीर्ष नेताओं के साथ इस मुलाकात के बाद इस बात की अटकलें तेज हो गई हैं कि दिल्ली में आप और कांग्रेस का गठबंधन हो सकता है.

4-3 के फॉर्मूले पर बनी सहमति
सूत्रों की मानें तो कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के बीच हुई वार्ता में 4-3 फॉर्मूले पर बात बन गई है. कांग्रेस 3 सीटें आम आदमी पार्टी देने को राजी हो गई है. यानि की दिल्ली में दोनों पार्टियों को गठबंधन होता है तो कांग्रेस 4 और आम आदमी पार्टी 3 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है.

राहुल गांधी ने आप के साथ गठबंधन करने से मना कर दिया था 
आम आदमी पार्टी के बीच चुनाव से पहले गठबंधन की अनिश्चितता के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि राहुल गांधी ने लोकसभा चुनावों के लिए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में उनकी पार्टी के साथ गठबंधन करने से मना कर दिया. विशाखापत्तनम हवाई अड्डे पर संवाददाताओं से बातचीत में आम आदमी पार्टी के नेता ने कहा कि उन्होंने हाल ही में राहुल गांधी से मुलाकात की थी और कांग्रेस अध्यक्ष ने आप के साथ हाथ मिलाने से इंकार कर दिया.

कांग्रेस की दिल्ली इकाई की अध्यक्ष शीला दीक्षित की टिप्पणियों के बारे में पूछने पर कि केजरीवाल ने गठबंधन के लिए उनसे कभी संपर्क नहीं किया, दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हमने राहुल गांधी से मुलाकात की थी. शीला उतनी महत्वपूर्ण नेता नहीं है.’’ 

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में वरिष्ठ ‘आप’ नेता संजय सिंह ने कहा कि राकांपा प्रमुख शरद पवार के आवास पर केजरीवाल और राहुल के बीच फरवरी में बैठक हुई थी और दिल्ली के मुख्यमंत्री उसी बैठक का हवाला दे रहे थे. उन्होंने कहा कि दोनो नेताओं के बीच कोई ताजा बैठक नहीं हुई है. सिंह ने कहा, ‘‘हम लोगों ने दिल्ली की सभी सात सीटों पर पूरी ताकत के साथ चुनाव प्रचार शुरू कर दिया है. केजरीवालजी ने गठबंधन का प्रस्ताव दिया था. अब कांग्रेस को इस गठबंधन के बारे में निर्णय करना है.’’