• 0/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    0बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    0कांग्रेस+

  • अन्य

    0अन्य

पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीटः बीजेपी और कांग्रेस के बीच हमेशा रहा है कड़ा मुकाबला

पूर्वी दिल्ली सीट से 7 बार बीजेपी और 6 बार कांग्रेस ने जीत दर्ज की है. एक बार यह सीट जनता पार्टी के खाते में भी गई है. 

पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीटः बीजेपी और कांग्रेस के बीच हमेशा रहा है कड़ा मुकाबला
लोकसभा चुनाव 2019 में पूर्वी दिल्ली सीट से बीजेपी ने पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर को मैदान में उतारा है वहीं कांग्रेस ने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली को टिकट दिया है.

नई दिल्लीः राजधानी दिल्ली सात लोकसभा सीटों में से एक पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट (East Delhi Lok Sabha Seat) साल 1966 में अस्तित्व में आई. इस सीट के अंतर्गत दिल्ली नगर निगम के 40 वार्ड आते हैं. जनसंख्या की बात करें तो यहां की करीब 25 जनसंख्या है जिनमें से 16 लाख वोटर्स हैं. 2009 के परिसीमन के बाद पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट के तहत 10 विधानसभा आती हैं. जबकि 1993- 2008 के बीच 22 विधानसभा इस सीट के अंतर्गत आती थी और 1966-1993 तक 8 विधानसभा इस सीट के तहत आती रही थीं. इस सीट पर साल 1967 में हुए पहले लोकसभा चुनाव में भारतीय जनसंघ के हरदयाल देवगन ने जीत दर्ज की थी.

वर्तमान में इस सीट में अंतर्गत यमुना पार के इलाकों के साथ साथ दक्षिणी दिल्ली के भी कुछ इलाके आते हैं जिनमें जंगपुरा, ओखला शामिल हैं. यमुनापार के जो इलाके पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट में आते है उनमें त्रिलोकपुरी, कोंडली, पटपड़गंज, लक्ष्मी नगर, विश्वास नगर, गांधी नगर, कृष्णा नगर, शाहदरा शामिल हैं.

यह भी पढ़ेंः टिकट कटने पर मौजूदा सांसद महेश गिरी ने दी बधाई, फिर गंभीर ने दिया कुछ ऐसा रिएक्शन

इसके बाद से इस सीट पर हमेशा रोचक मुकाबला रहा. अभी तक हुए 14 लोकसभा चुनावों में से इस सीट पर बीजेपी ने सबसे ज्यादा 7 बार जीत दर्ज की है. जबकि कांग्रेस ने 6 बार जीत का स्वाद चखा है. जबकि एक बार (1977 के लोकसभा चुनाव) यह सीट जनता पार्टी के खाते में गई थी. 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एचकेएल भगत पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से सबसे ज्यादा (4 बार) चुनाव जीते. वहीं बीजेपी की बात करें तो लाल बिहारी तिवारी 3 बार तो बैकुंठ लाल शर्मा प्रेम 2 बार यहां से सांसद रहे हैं. कांग्रेस के संदीप दीक्षित भी यहां से 2 बार (2004 और 2009) सांसद रहे. साल 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के महेश गिरी ने इस सीट जीत दर्ज की थी. लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) में बीजेपी ने महेश गिरी की जगह क्रिकेटर गौतम गंभीर को टिकट दिया है. गौतम गंभीर का मुकाबला कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अरविंदर सिंह लवली और आम आदमी पार्टी की आतिशी से है.