close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चुनाव चिन्ह मामले में आयोग ने दी उपेंद्र कुशवाहा को राहत, लोकसभा चुनाव तक 'सीलिंग फैन' ही होगा RLSP का सिंबल

चुनाव आयोग ने उपेंद्र कुशवाहा को राहत दी है और उनकी पार्टी को चुनाव चिन्ह 'सीलिंग फैन' को लोकसभा चुनाव तक जारी रहने का निर्देश दिया है.

चुनाव चिन्ह मामले में आयोग ने दी उपेंद्र कुशवाहा को राहत, लोकसभा चुनाव तक 'सीलिंग फैन' ही होगा RLSP का सिंबल
लोकसभा चुनाव तक सिलिंग फैन ही आरएलएसपी का चुनाव चिन्ह होगा. (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव में आरएलएसपी नेता उपेंद्र कुशवाहा की मुश्किलें तब बढ़ गई थी, जब पार्टी से इस्तीफा देनेवाले विधायक और सांसदों ने चुनाव आयोग से पार्टी के सिंबल को लेकर चिट्ठी लिखी थी. लेकिन चुनाव आयोग ने इस पर संज्ञान लेते हुए तत्काल कहा है कि लोकसभा चुनाव 2019 के खत्म होने तक 'सीलिंग फैन' ही आरएलएसपी का चुनाव चिन्ह होगा.

चुनाव आयोग ने उपेंद्र कुशवाहा को अपने फैसले से बड़ी राहत दी है. आयोग कहना है कि आरएलएसपी के लिए आरक्षित चुनाव चिन्ह 'सीलिंग फैन' लोकसभा चुनाव 2019 के समाप्त होने तक जारी रहेगा. साथ ही आयोग ने यह भी कहा कि उपेंद्र कुशवाहा वर्तमान चुनाव तक पार्टी के अध्यक्ष के रूप में ही मान्यता रहेगी.

चुनाव आयोग ने कहा है कि चुनाव चिन्ह और अन्य चीजों पर फैसला अब चुनाव के बाद लिया जाएगा. वहीं, चुनाव आयोग ने ललन पावान के नेतृत्व वाले समूह को कहा है कि उनके समूह को बिहार में राज्य पार्टी के रूप में अंतरिम मान्यता दी जाएगी. इसके लिए पार्टी का नाम और अपने हिसाब से तीन चुनाव चिन्ह आयोग को बता सकते हैं.

चुनाव आयोग ने कहा क्योंकि चुनाव चल रहा है और उपेंद्र कुशवाहा ने अपने एक उम्मीदवार को जमुई में चुनाव लड़ा चुके हैं. इसलिए इस चुनाव में उपेंद्र कुशवाहा चुनाव चिन्ह ज़ब्त नहीं किया सकता. लेकिन चुनाव के बाद वोटों के प्रतिशत को देखते हुए, उन्हें बुलाया जाएगा.

गौरतलब है कि हाल ही में आरएलएसपी से उपेंद्र कुशवाहा से नाराज होकर पार्टी के सभी विधायक, सांसद और प्रमुख नेताओं ने इस्तीफा दे दिया है. साथ ही उन्होंने कुशवाहा की कथित पार्टी को झूठा आरएलएसपी बताया. ललन पासवान के नेतृत्व वाली समूह ने कहा कि उनकी पार्टी असली आरएलएसपी है और वह सभी चुनाव आयोग को 'सीलिंग फैन' चुनाव चिन्ह को जब्त करने के लिए पत्र लिखा था.

आयोग ने इस पत्र को स्वीकार करते हुए सभी नेताओं से मुलाकात भी की. जिसके बाद शुक्रवार को कहा कि वह चुनाव खत्म होने पर इस मामले में फैसला लेंगे. लेकिन तब तक आरएलएसपी का चुनाव चिन्ह 'सीलिंग फैन' ही रहेगा और कुशवाहा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में होंगे.