close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'अली-बजरंगबली' वाले बयान पर CM योगी को चुनाव आयोग ने किया तलब, मायावती से भी मांगा जवाब

आयोग ने नोटिस में मायावती के बयान से प्रथम दृष्टया आचार संहिता का उल्लंघन होने की बात कहते हुए उनसे 24 घंटे में जवाब देने को कहा है.   

'अली-बजरंगबली' वाले बयान पर CM योगी को चुनाव आयोग ने किया तलब, मायावती से भी मांगा जवाब
सीएम योगी आदित्यनाथ और बसपा सुप्रीमो मायावती की फाइल फोटो.

नई दिल्ली: चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पूर्व मुख्यमंत्री एवं बसपा प्रमुख मायावती को चुनाव अभियान के दौरान आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है. उपचुनाव आयुक्त संदीप सक्सेना ने गुरुवार (11 अप्रैल) बताया कि सीएम योगी को मौजूदा चुनाव प्रक्रिया के दौरान आचार संहिता के उल्लंघन का दूसरा नोटिस जारी किया गया है. उनके खिलाफ मेरठ में एक रैली के दौरान 'अली' और 'बजरंगबली' वाली टिप्पणी करने को लेकर कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

ये दिया था सीएम योगी ने बयान
नोटिस के अनुसार आयोग ने माना कि प्रथम दृष्टया योगी ने चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन किया है. आयोग ने उनसे शुक्रवार की शाम तक जवाब देने को कहा है. सीएम योगी ने लोकसभा चुनावों की तुलना इस्लाम में अहम शख्सियत ‘अली’ और हिंदू देवता ‘बजरंगबली’ के बीच मुकाबले से की थी. भाजपा नेता ने कहा था कि अगर कांग्रेस, सपा, बसपा को अली पर विश्वास है तो हमें भी बजरंग बली पर विश्वास है.

 

बसपा सुप्रीमो से भी मांगा जवाब
सूबे के मुखिया सीएम योगी ने देवबंद में बीएसपी प्रमुख मायावती के उस भाषण की तरफ इशारा करते हुए यह टिप्पणी की थी, जिसमें मायावती ने मुस्लिमों से सपा-बसपा गठबंधन को वोट देने की अपील की थी। इस बीच आयोग ने मायावती को देवबंद में एक रैली के दौरान मुस्लिम मतदाताओं को कांग्रेस के बजाय सपा-बीएसपी-रालोद महागठबंधन को वोट देने की अपील की शिकायत पर भी नोटिस जारी किया है. आयोग ने नोटिस में मायावती के बयान से प्रथम दृष्टया आचार संहिता का उल्लंघन होने की बात कहते हुए उनसे 24 घंटे में जवाब देने को कहा है.