• 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    336बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    85कांग्रेस+

  • अन्य

    121अन्य

बयान से पलटे गुलाम नबी आजाद, अब कहा- '5 साल सरकार चलानी है तो कांग्रेस का हो पीएम'

गुरुवार को गुलाम नबी ने कहा था कि उनकी पार्टी के लिए पीएम पद कोई मुद्दा नहीं है जरूरत पड़ेगी तो किसी और भी समर्थन कर सकते हैं. 

बयान से पलटे गुलाम नबी आजाद, अब कहा- '5 साल सरकार चलानी है तो कांग्रेस का हो पीएम'
फोटो सौजन्य: ANI

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के अंतिम चरण की वोटिंग बाकि और अब नतीजों से पहले सरकार बनाने और पीएम पद के प्रस्तावित नामों पर चर्चाओं का बाजार गर्म हैं. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने पीएम प्रत्याशी को लेकर दिए अपने पिछले बयान से पलटी मारते हुए नया बयान दिया है. गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि यह सही नहीं है कि कांग्रेस को प्रधानमंत्री पद लेने की कोई इच्छा नहीं है. कांग्रेस सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी है. अगर हमें पांच साल सरकार चलाना है तो सबसे बड़ी पार्टी को मौका मिलना चाहिए.

उन्होंने कहा कि चुनाव के बीच में ही हमें एक दूसरे के साथ इस बात को लेकर कोई विवाद नहीं उत्पन्न करना चाहिए कि कौन पीएम बनेगा और कौन नहीं. उन्होंने कहा कि पीएम का निर्णय सभी की सहमति से होगा. गुलाम नबी आजाद ने राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद का सबसे प्रबल उम्मीदवार बताया है. 

'ज्यादा नहीं चली है छोटो पार्टियों की सरकार'
गुलाम नबी आजाद ने कहा 'छोटी पार्टी ने जब सरकार बनाई तो साल से ज्यादा नहीं चली, राजनीति में देखने तो मिलता है कि इच्छा तो एक चीज होती है तो सरकार चलाना एक चीज, मोदी सरकार से ज्यादा अच्छा चलाना और सबसे ज्यादा संख्या देखी जाए तो कांग्रेस ही है और इस वक़्त हम इसको विवाद नहीं बनाना चाहेंगे. इस वक़्त मजबूत अंडर करंट है, कांग्रेस को जिताने के लिए और बीजेपी को हारने के लिए.'

बता दें कि राज्यसभा में नेता विपक्ष गुलाम नबी आजाद ने बुधवार को कहा था, 'अच्छा होगा अगर लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद सरकार चलाने के लिये कांग्रेस नेता के नाम पर आम सहमति बने लेकिन ‘‘हम इसे कोई मुद्दा नहीं बनाने जा रहे कि अगर हमें (कांग्रेस को) प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवारी की पेशकश नहीं की गई तो हम (कांग्रेस) किसी और (नेता) को प्रधानमंत्री नहीं बनने देंगे.’’

 

पूर्व केंद्रीय मंत्री आजाद ने कहा कि कांग्रेस का एकमात्र ध्येय केंद्र में एनडीए को सरकार बनाने से रोकना है और गैर-एनडीए सरकार बनाना है. उन्होंने दावा किया कि बीजेपी 125 सीटों तक सिमट जाएगी हालांकि चुनाव में कांग्रेस कितनी सीटें जीतेगी इस बारे में उन्होंने कुछ भी बताने से इनकार किया.

पीएम मोदी नहीं बनेंगे पीएमः आजाद
आजाद ने कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद केंद्र में न तो बीजेपी और न ही एनडीए की सरकार बनेगी. उन्होंने दावा किया कि चुनाव के बाद नरेन्द्र मोदी दूसरी बार प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे बल्कि केंद्र में गैर एनडीए, गैर बीजेपी सरकार बनेगी. उन्होंने कहा, ‘‘चुनाव अब आखिरी चरण में हैं और देश भर में चुनाव प्रचार के अपने अनभुव के आधार पर मैं कह सकता हूं कि केंद्र में फिर से न तो बीजेपी और न ही एनडीए की सरकार बनेगी.’’ यहां पत्रकारों से उन्होंने कहा, ‘‘नरेंद्र मोदी दूसरी बार प्रधानमंत्री नहीं बनने जा रहे हैं... लोकसभा चुनाव के बाद केंद्र में गैर एनडीए-गैर बीजेपी सरकार बनेगी.’’