close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अच्‍छा होता आपने अमिताभ बच्‍चन को ही प्रधानमंत्री बना दिया होता: रोड शो में लोगों से बोलीं प्रियंका गांधी

इस रोड शो में प्रियंका के साथ मिर्जापुर के कांग्रेस उम्‍मीदवार ललितेश पति त्रिपाठी भी मौजूद थे.

अच्‍छा होता आपने अमिताभ बच्‍चन को ही प्रधानमंत्री बना दिया होता: रोड शो में लोगों से बोलीं प्रियंका गांधी
कांग्रेस महासचिव एवं पूर्वी उत्‍तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी (फाइल फोटो)

नई दि‍ल्‍ली : लोकसभा चुनाव 2019 के प्रचार के आखिरी दिन मिर्जापुर में रोड शो के दौरान कांग्रेस महासचिव एवं पूर्वी उत्‍तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी ने लोगों से कहा कि अच्‍छा होता कि आप लोगों ने अमिताभ बच्‍चन को ही प्रधानमंत्री बना दिया होता. इस रोड शो में प्रियंका के साथ मिर्जापुर के कांग्रेस उम्‍मीदवार ललितेश पति त्रिपाठी भी मौजूद थे.

प्रियंका गांधी ने मिर्जापुर में रोड शो करते हुए जनता को संबोधित किया. उन्‍होंने कहा कि 'अब आप समझ लीजिए की आपने दुनिया के सबसे बड़े अभिनेता को अपना प्रधानमंत्री दिया है. इससे अच्‍छा तो आप अमिताभ बच्‍चन को ही पीएम बना देते. करना तो किसी ने कुछ नहीं था आपके लिए'.

Priyanka-GHandhi

गौरतलब है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि भाजपा की सरकार ‘‘मगरूर और कमजोर’’ है. प्रियंका ने यहां एक चुनावी जनसभा में कहा, 'भाजपा का मकसद सत्ता हासिल करना है, चाहे वह जैसे भी मिले. भाजपा की सरकार मगरूर और कमजोर है.' 

उन्होंने कहा कि मोदी ने 2014 के लोकसभा चुनाव के समय किये गये वायदों को पूरा नहीं किया. कांग्रेस झूठे वायदे नहीं करती बल्कि धरातल पर काम करती है. पीएम मोदी को 'किसान विरोधी' करार देते हुए प्रियंका ने कहा कि पिछले पांच साल में मोदी दुनिया भर में हर जगह यात्रा करते नजर आये लेकिन उन्होंने अपने ही देश के किसानों से मिलने की आवश्यकता नहीं समझी.

 

 

उन्होंने कहा कि मोदी के लिए राष्ट्रवाद का मतलब है, उन्होंने पाकिस्तान से निपटने के लिए जो कुछ किया, सिर्फ उसका बखान करना. रोजगार और किसानों की बात करना उनके लिए राष्ट्रवाद नहीं है. 'आप 56 इंच सीने की बात करते हैं, लेकिन आपका दिल कहां है.' 

प्रियंका ने कहा था कि बीते पांच साल में पांच करोड़ नौकरियां समाप्त की गयीं और 24 लाख सरकारी पद रिक्त पड़े हैं. नोटबंदी के दौरान लगभग 50 लाख लोगों की नौकरियां चली गयीं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर रिक्त सरकारी पदों को भरा जाएगा.