close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जम्मू-कश्मीर: पहले चरण में 33 लाख से अधिक लोग करेंगे मतदान

अलगाववादियों ने गुरुवार को चुनाव और हुर्रियत कान्फ्रेंस के नेताओं और उनके परिजन के खिलाफ ‘एनआईए की कार्रवाई’ के विरोध में हड़ताल का आह्वान किया है.

जम्मू-कश्मीर: पहले चरण में 33 लाख से अधिक लोग करेंगे मतदान
(प्रतीकात्मक फोटो)

जम्मू: जम्मू और बारामूला में गुरुवार को होने वाले प्रथम चरण के चुनाव में 33 लाख से अधिक मतदाता 33 उम्मीदवारों का भविष्य तय करेंगे. अलगाववादियों ने गुरुवार को चुनाव और हुर्रियत कान्फ्रेंस के नेताओं और उनके परिजन के खिलाफ ‘एनआईए की कार्रवाई’ के विरोध में हड़ताल का आह्वान किया है. दोनों संसदीय क्षेत्रों के लिए चुनाव प्रचार मंगलवार को बिना किसी अप्रिय घटना के समाप्त हो गए.

जम्मू में 20 लाख पांच हजार 730 मतदाता 2740 मतदान केंद्रों पर वोट डालकर 24 उम्मीदवारों का भविष्य तय करेंगे. इनमें से दस लाख 40 हजार 876 पुरुष मतदाता और नौ लाख 64 हजार 834 महिला मतदाता हैं.

भारतीय जनता पार्टी से यहां जुगल किशोर उम्मीदवार हैं जबकि कांग्रेस ने अपने वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री रमन भल्ला को उम्मीदवार बनाया है जिन्हें नेशनल कान्फ्रेंस का समर्थन प्राप्त है.

'हमने सभी आवश्यक प्रबंध कर लिए हैं'
एक चुनाव अधिकारी ने बताया, 'हमने सभी आवश्यक प्रबंध कर लिए हैं. हम स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं.' अधिकारी ने बताया कि लोकसभा क्षेत्र के सांबा, जम्मू, राजौरी और पुंछ जिले में 244 मतदान केंद्र अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा के पास स्थित हैं और पाकिस्तान से गोलीबारी होने की स्थिति में आपातकालीन व्यवस्था की गई है. बारामूला संसदीय क्षेत्र में 13 लाख से अधिक मतदाता हैं जो नौ उम्मीदवारों का भविष्य तय करेंगे.

सुचारू रूप से चुनाव कराने के लिए अधिकारियों ने 1387 स्थानों पर 1749 मतदान केंद्र बनाए हैं. यहां से प्रमुख उम्मीदवार कांग्रेस के हाजी फारूक अहमद मीर, भाजपा के मोहम्मद मकबूल वार, एनपीपी के जहांगीर खान, पीडीपी के अब्दुल कयूम वानी और नेशनल कांफ्रेंस के मोहम्मद अकबर लोन हैं.