close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PM से पूछा आपको वोट क्‍यों दें, मोदी बोले-5 साल गड्ढे भरे, अब उम्‍मीदें पूरी करूंगा

पीएम मोदी ने कहा कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 500 से ज्यादा जगहों पर लाखों लोगों से संवाद करने का मौका मिला.

PM से पूछा आपको वोट क्‍यों दें, मोदी बोले-5 साल गड्ढे भरे, अब उम्‍मीदें पूरी करूंगा
पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया का कोई नेता जब मुझसे हाथ मिलाता है या गले मिलता है, तो उसे मोदी नहीं दिखता, पूर्ण बहुमत वाली सरकार के माध्यम से सवा सौ करोड़ देशवासी दिखते हैं.

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 'मैं भी चौकीदार' अभियान के तहत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पेशेवर, कारोबारियों व चौकीदारों से बातचीत की. इस दौरान पीएम मोदी ने अपने चिरपरिचित अंदाज में भाषण की शुरुआत भारत माता की जय के नारे के साथ की. प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि मैं देश की जनता के पैसों पर पंजा नहीं पड़ने दूंगा. उन्होंने कहा कि एक चौकीदार के रूप में मैं अपनी जिम्मेदारी निभाऊंगा.

लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर अप्रत्यक्ष रूप से निशाना साधा. पीएम ने कहा कि कुछ लोगों का विकास नहीं हो पाता है. यह विकास बौद्धिक स्तर पर रुक जाता है. उन्होंने कहा कि देश की जनता मुझे चौकीदार के रूप में पसंद करती है. जनता को राजा-महाराजा पसंद नहीं आते हैं. उन्होंने कहा कि चौकीदार न कोई व्यवस्था है, न कोई यूनिफॉर्म की पहचान है. उन्होंने कहा कि चौकीदार एक भावना है. यह भावना देश की जनता में लगातार बढ़ रही है.

उन्होंने कहा कि स्वच्छता का आंदोलन देश की जनता का आंदोलन हो गया है. सवा सौ करोड़ लोगों ने चौकीदारी की जिम्मेदारी निभाई. उन्होंने कहा कि चौकीदारी का सिद्धांत महात्मा गांधी ने देश को दिया था. यह गांधी का सिद्धांत है. 2014 में भाजपा ने मुझे दायित्व दिया उसके बाद मुझे देश के कोने-कोने में जाने की जरूरत पड़ी. तब मैंने देश के लोगों से कहा था कि आप मुझे जो दायित्व दे रहे हैं उसका मतलब है कि आप एक चौकीदार बैठा रहे हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि राजनीतिक हितों से ऊपर उठकर, नफा-नुकसान को किनारे रखकर देश को सबसे ऊपर रखा. पीएम ने बालाकोट हमले के सवाल पर यह उत्तर दिया. उन्होंने कहा कि पूर्ण बहुमत की सरकार देश के लिए बहुत महत्वपूर्ण है. दुनिया में भारत की आवाज सुनाई देने का सीधा अर्थ बहुमत की सरकार है. उन्होंने कहा कि बालाकोट पर कार्रवाई मैंने नहीं की, देश के जवानों ने की, हमारे सुरक्षा बलों ने की. 

पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया का कोई नेता जब मुझसे हाथ मिलाता है या गले मिलता है, तो उसे मोदी नहीं दिखता, पूर्ण बहुमत वाली सरकार के माध्यम से सवा सौ करोड़ देशवासी दिखते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि मेरे लिए चुनाव नही देश प्राथमिकता है. उन्होंने आतंकवाद पर निशाना साधते हुए कहा कि हम आतंकियों को उन्हीं की भाषा में उनकी ही जमीन पर जवाब देंगे. उन्होंने कहा कि बहुमत की सरकार ही ऐसे कड़े फैसले ले सकती है.  

पीएम मोदी ने भ्रष्टाचार के सवाल पर कहा कि हमारी सरकार ने कई लोगों को जेल के दरवाजे तक पहुंचा दिया है. उन्होंने कहा कि कुछ लोग जमानत पर चल रहे हैं, कुछ जमानत के लिए कोशिश में लगे हैं. उन्होंने कहा कि लुटेरों को देश की पाई-पाई चुकानी होगी. उन्होंने कहा कि कुछ लोग विदेश की अदालतों में कहते हैं कि भारत की जेलों की स्थिति अच्छी नहीं है. अब इनको कोई महल में थोड़ी रखेगा. अंग्रेजों ने गांधी जी को जिस जेल में रखा था, मैं उनको उससे अच्छी जेल नहीं दे सकता हूं. उन्होंने कहा कि 2019 के बाद कई और भ्रष्टाचारी जेल जाएंगे.

उन्होंने कहा कि अगर मोदी अपने राजनीतिक भविष्य का सोचता, तो वो मोदी नहीं होता. उन्होंने कहा कि अगर इसी राजनीतिक पैंतरेबाजी से देश चलाना होता, तो मोदी की देश को कोई जरूरत नहीं थी. उन्होंने कहा कि हमारा देश 6वीं आर्थिक ताकत बन गया है.

उन्होंने कहा कि मैंने देश में एक माहौल बनाया है और आगे भी बनाना है कि हमे दुनिया की बराबरी करनी है. हमने बहुत सारा समय भारत-पाकिस्तान करने में ही गुजार दिया. पाकिस्तान अपनी मौत मरेगा उसे छोड़ दो, हमे आगे बढ़ना है बस इसी पर हमारा ध्यान रहना चाहिए.

पीएम मोदी ने मिशन शक्ति पर कहा किहमारे एक बुद्धिमान नेता कहते हैं कि इसे सीक्रेट रखना चाहिए था, सबके सामने नहीं लाना चाहिए था. मैं उन बुद्धिमान से कहना चाहता हूं कि कुछ सामान्य बुद्धि का प्रयोग कर लीजिए. जब अमेरिका, चीन और रूस ने इसे डंके की चोट पर किया तो हम गुपचुप क्यों करें.

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के झूठ सीजनल होते हैं. सीजन के हिसाब से वो झूठ बोलते हैं, फिर मैदान में छोड़ते हैं और इनका ईको सिस्टम इसे उठाता है. उन्होंने कहा कि असहिष्णुता जैसे झूठ अब देश में नजर नहीं आते हैं. उन्होंने कहा कि उनके झूठ की उम्र भी ज्यादा नहीं, कुछ झूठ की तो ‘बालमौत’ हो जाती है, लेकिन फिर भी उसे खींचते रहते हैं. उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि एक तरफ झूठ की फैक्ट्री चली है, रोज नए-नए झूठ आ रहे हैं.

पीएम मोदी ने अप्रत्यक्ष रूप से राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि जो झूठ बोलता है तो उसके लिए पहली शर्त होती है कि उसकी मेमोरी पावर तेज होनी चाहिए. लेकिन वो एक दिन एक आंकड़ा बोले, अगले दिन दूसरा, उनकी झूठ की फैक्ट्री उन्हें पकड़ा देती है. मेमोरी पावर कम होने के कारण वो पकड़े जाते हैं.

उन्होंने कहा कि आजकल कुछ लोग चुनावी वादों की रेवड़ियां बांट रहे हैं. पहली बार वोट देने वालों से कहना चाहता हूं कि वादे करने वालों का ट्रैक रिकॉर्ड देखिए, उनके टेप रिकॉर्डर को मत सुनिए. उन्होंने कहा कि बीते 5 वर्ष देश की आवश्यकताओं को पूरा करने को मैंने प्राथमिकताएं दी. अगले 5 वर्ष में मेरा फोकस आकांक्षाओं को पूर्ण करने पर होगा. आने वाले दिनों में मेरा पहला काम होगा देश को लूटने वालों के प्रति और ज्यादा कड़क होना और देश को 5 ट्रिलियन डॉलर इकॉनमी के क्लब में ले जाना हैं.

 

 

पीएम मोदी ने कहा कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 500 से ज्यादा जगहों पर लाखों लोगों से संवाद करने का मौका मिला. इस दौरान उन्होंने वहां मौजूद लोगों के सवालों के भी जवाब दिए.