close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चौकीदार को इस्तीफा सौंप, अखिलेश की मौजूदगी में SP में शामिल हुए BJP के सांसद अंशुल वर्मा

आपको बता दें कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने हरदोई सीट से अंशुल वर्मा की बजाय जय प्रकाश रावत को टिकट दिया है. 

चौकीदार को इस्तीफा सौंप, अखिलेश की मौजूदगी में SP में शामिल हुए BJP के सांसद अंशुल वर्मा
फोटो सौजन्य: ANI

लखनऊ: लोकसभा चुनाव में बीजेपी द्वारा टिकट से वंचित किए गए सांसद अंशुल वर्मा बुधवार (27 मार्च) को सपा में शामिल हो गए. यूपी के हरदोई जिले से बीजेपी सांसद अंशुल वर्मा ने चुनाव से ठीक पहले पार्टी का साथ छोड़ दिया. उन्होंने बुधवार सुबह लखनऊ में बीजेपी के प्रदेश कार्यालय जाकर चौकीदार को इस्तीफा सौंपा.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में सपा में शामिल हुए वर्मा ने कहा, "मैं सपा में बिना शर्त शामिल हुआ है. टिकट नहीं दिए जाने के पीछे शायद मेरी गलती यह थी कि मैंने पासी समुदाय के एक सम्मेलन के दौरान मंदिर परिसर में शराब बांटने के खिलाफ आवाज उठाई थी.' उन्होंने कहा कि मुझे उस पर दु:ख हुआ था और मैंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इस बारे में पत्र भी लिखा था. वर्मा ने कहा कि उनकी गलती ये भी हो सकती है कि उन्होंने अपने नाम के पहले 'चौकीदार' शब्द नहीं जोड़ा.

इस्तीफा देने की वजह बताते हुए अंशुल ने कहा कि अगर विकास ही मानक था तो 24 हजार करोड़ रुपया लगाने की और विकास को आखिरी पायदान से चौथे पायदान पर लाने की सजा मिली है. पार्टी से नाराजगी जाहिर करते हुए बोले कि सदन में मेरी उपस्थिती 95 प्रतिशत रही है, इसमें मेरा दोष कहा था यह समझ से परे है. 

आपको बता दें कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने हरदोई सीट से अंशुल वर्मा की बजाय जय प्रकाश रावत को टिकट दिया है.