close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव परिणाम आज, सुबह साढ़े 8 बजे आने लगेंगे ट्रेंड, आख‍िरी नतीजे आने में होगी देरी

Lok Sabha Election Result 2019 के नतीजे आज सुबह 8 बजे के बाद आने लगेंगे. माना जा रहा है कि पहला ट्रेंड साढ़े 8 से 9 बजे के बीच आएगा. हालांकि आख‍िरी  नतीजा आने में इस बार देर होगी. क्‍योंकि इस बार ज्‍यादा संख्‍या में वीवीपेट पर्च‍ियों का मिलान ईवीएम के साथ किया जाएगा.

लोकसभा चुनाव परिणाम आज, सुबह साढ़े 8 बजे आने लगेंगे ट्रेंड, आख‍िरी नतीजे आने में होगी देरी
चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने कहा कि देर शाम तक परिणाम आने की संभावना है. फोटो: एएनआई

नई दिल्‍ली: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) की 543 में 542 सीटों पर चुनाव के लिये सात दौर की मतगणना के बाद गुरुवार को मतगणना की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. सभी लोकसभा सीटों के लिए बनाए गए मतगणना केन्द्रों सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती शुरू हो जाएगी. लोकसभा चुनाव में पहली बार EVM के मतों का सत्यापन करने के लिये वीवीपीएटी की पर्चियों से मिलान किए जाने के कारण चुनाव परिणाम घोषित होने में थोड़ा विलंब होने की आशंका से चुनाव आयोग ने इंकार नहीं किया है.

माना जा रहा है कि पहला ट्रेंड साढ़े आठ तक आने लगेंगे. सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार प्रत्येक लोकसभा क्षेत्र में किसी एक विधानसभा क्षेत्र के किन्हीं पांच मतदान केन्द्रों की वीवीपीएटी मशीनों की पर्चियों का मिलान ईवीएम के मतों से किया जाएगा. इस बाध्यता का हवाला देते हुये आयोग के एक अधिकारी ने कहा कि देर शाम तक परिणाम आने की संभावना है.

ड्यूटी पर तैनात मतदाताओं (सर्विस वोटर) की संख्या करीब 18 लाख है. इनमें सशस्त्र बल, केन्द्रीय पुलिस बल और राज्य पुलिस बल के जवान शामिल हैं जो अपने संसदीय क्षेत्र से बाहर तैनात हैं. विदेश में भारतीय दूतावासों में पदस्थ राजनयिक और कर्मचारी भी सेवा मतदाता हैं. इन 18 लाख पंजीकृत मतदाताओं में से 16.49 लाख ने 17 मई को अपने अपने रिटर्निंग अधिकारियों को डाक मतपत्र भेज दिये थे.

चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने बताया कि हाथों से डाक मतपत्रों को गिनने के कारण लगने वाले अतिरिक्त समय को बचाने के लिये डाक मतपत्रों और ईवीएम के मतों की गणना एक साथ की जाएगी. चुनाव मैदान में किस्मत आजमा रहे प्रमुख नेताओं में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा विभिन्न केंद्रीय मंत्री, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी और सपा प्रमुख अखिलेश यादव सहित विभिन्न दलों के प्रमुख नेता शामिल हैं.