ओडिशा में नहले पर दहला, बीजेडी सांसद BJP में शामिल, नवीन पटनायक ने चला ये दांव

लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी की सबसे ज्‍यादा निगाहें ओड‍िशा जैसे राज्‍यों पर हैं. यहां बीजेपी के पास अभी सिर्फ एक सीट है.

ओडिशा में नहले पर दहला, बीजेडी सांसद BJP में शामिल, नवीन पटनायक ने चला ये दांव

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी ने जिन राज्‍यों में सबसे ज्‍यादा फोकस किया है, उनमें एक राज्‍य ओडिशा है. 21 सीटों वाले इस राज्‍य में चुनावी सरगर्मी जोरों पर है. पार्ट‍ियों के नेता इधर से उधर पाला बदलने में लगे हैं. ओडिशा के नबरंगपुर लोकसभा सीट से बीजू जनता दल (बीजद) के सांसद बलभद्र मांझी शनिवार को भाजपा में शामिल हो गए. उन्होंने हाल ही में बीजद से इस्तीफा दिया था. बलभद्र मांझी यहां केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, केंद्रीय मंत्री जुएल ओरम, ओडिशा के प्रभारी महासचिव अरुण सिंह और बैजयंत जय पांडा समेत अनेक वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुए.

भाजपा में शामिल होने के बाद मांझी ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की. इधर बीजेडी सांसद बीजेपी में शामिल हुए तो ओडिशा में बीजेपी के अध्‍यक्ष बसंत कुमार पांडा के भतीजे हरीश चंद्र पांडा ने बीजू जनता दल का दामन पकड़ लिया. उन्‍हें खुद ओडिशा के मुख्‍यमंत्री नवीन पटनायक की उपस्‍थ‍िति में पार्टी में शामिल किया गया. इसे ओडिशा में नहले पर दहला माना जा रहा है.

ओड‍िशा में 21 लोकसभा सीटे हैं. इसमें बीजेपी के पास सिर्फ एक सीट है. पंचायत चुनाव में बीजेपी के बढ़ते जनाधार ने उसे यहां और सीटें जीतने की संभावना दिखाई है.

कांग्रेस में भी भगदड़, विधायक ने दिया इस्तीफा
आगामी लोकसभा और ओडिशा विधानसभा चुनाव से पहले विपक्षी कांग्रेस को झटका देते हुए सालेपुर से उसके विधायक प्रकाश बेहरा ने शनिवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया. इससे पहले भी तीन विधायक नव किशोर दास, जोगेश सिंह और कृष्णा चंद्र सागरिया कांग्रेस से इस्तीफा दे चुके हैं. दास और सिंह बीजद में शामिल हो गए हैं जबकि सागरिया ने बसपा का दामन थामा है.

बेहरा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र लिखकर कहा कि उन्होंने ओडिशा प्रदेश कांग्रेस समिति (ओपीसीसी) नेतृत्व द्वारा उन्हें ‘‘नजरअंदाज’’ किए जाने के बाद पार्टी से इस्तीफा देने का फैसला किया है.