BJP सांसद के बिगड़े बोल- 'यूपी में हाथी है या हथिनी मालूम नहीं पड़ता'

चौथे चरण की वोटिंग के लिए प्रचार थमने से पहले अपनी आखिरी रैली में राजवीर सिंह ने महागठबंधन पर हमला करते हुए कहा कि हाथी है या हथिनी यह मालूम नहीं पड़ता.

BJP सांसद के बिगड़े बोल- 'यूपी में हाथी है या हथिनी मालूम नहीं पड़ता'
राजवीर सिंह राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह के बेटे हैं.

महोबा: उत्तर प्रदेश के एटा से भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद राजवीर सिंह ने शनिवार को लोकसभा चुनाव 2019 (Lok sabha elections 2019) प्रचार के दौरान विरोधियों पर हमले करने के दौरान शब्दों की मर्यादा को लांघ गए. चौथे चरण की वोटिंग के लिए प्रचार थमने से पहले अपनी आखिरी रैली में राजवीर सिंह ने महागठबंधन पर हमला करते हुए कहा कि हाथी है या हथिनी यह मालूम नहीं पड़ता. क्या हाथी पर साइकिल चढ़ेगी या फिर साइकिल पर हाथी. बीजेपी सांसद यहीं नहीं रुके उन्होंने ये तक कह दिया कि इस बार गठबंधन की हार के साथ ही अगले 15-20 साल देश में चुनाव नहीं होंगे.

महोबा के चरखारी के विद्या मंदिर प्रांगण में राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह के बेटे राजवीर सिंह बीजेपी प्रत्याशी पुष्पेंद्र सिंह चंदेल के लिए वोट मांगने पहुंचे थे. यहां उन्होंने महागठबंधन के साथ कांग्रेस को भी आड़े हाथों लिया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस शौचालय की बात कह रही है. बड़ा छोटा दिमाग है. राहुल गांधी अगर आपकी दादी और अम्मा खेत में लोटा लेकर गई होती तो मालूम पड़ जाता.

महागठबंधन पर निशाना साधते हुए राजवीर सिंह ने कहा कि हाथी है हथिनी यह पता ही नहीं चलता. क्या साइकिल हाथी पर चढ़ेगी औऱ यदि साइकिल पर हाथी चढ़ गया तो साइकिल दिखेगी नहीं मिट्टी हो जाएगी. गठबंधन का डर दिखा रहे जेल से बचने के लिए नेताओं ने गठबंधन कर लिया है. रणवीर सिंह ने गठबंधन पर बार करते हुए कहा कि इस बार यदि आपने गठबंधन को मार लिया तो 15- 20 साल तक देश में चुनाव नहीं होंगे. 

उन्होंने कहा कि यदि इस देश को सशक्त हाथों देना है तो भाजपा के अलावा कोई रास्ता नहीं है. कांग्रेस का नाम लिए बगैर कहा कि यदि इस देश की बागडोर बंदर के हाथ में उस्तरा चला गया तो सबकी दाढ़ी कटेगा और अपनी भी कटेगा.