close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'भारत का सबसे असफल उम्‍मीदवार', जो 170 चुनाव लड़ा, लेकिन एक भी नहीं जीत पाया

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) : दरअसल, यह खबर है भारत एक ऐसे व्‍यक्ति के बारे में, जो खुद को 'ऑल इंडिया इलेक्‍शन किंग' कहता है. 

'भारत का सबसे असफल उम्‍मीदवार', जो 170 चुनाव लड़ा, लेकिन एक भी नहीं जीत पाया

नई दिल्‍ली : लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) पास है. चुनावी मौसम है और चुनावी बात न हो, ऐसा तो हो नहीं सकता. यह खबर भी चुनावी है और रोचक तथ्‍य से भरपूर है. दरअसल, यह खबर है भारत एक ऐसे व्‍यक्ति के बारे में, जो खुद को 'ऑल इंडिया इलेक्‍शन किंग' कहता है. इसकी वजह भी खास है, क्‍योंकि वह आज तक 170 चुनाव लड़ चुका है, लेकिन उसे आज तक किसी भी चुनाव सफलता हाथ नहीं लगी. उनकी हार ने भी एक रिकॉर्ड काम किया. उनका नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में 'भारत के सबसे असफल उम्‍मीदवार' के रूप में भी दर्ज हो चुका है.

कुछ लोग बार-बार कोशिश करने के बावजूद हार नहीं मानते और यह बात डॉ. के पद्मराजन पर बिल्‍कुल सटीक बैठती है. दरअसल, तमिलनाडु के सलेम के रहने वाले डॉ. पद्मराजन ने साल 1988 में पहली बार चुनाव लड़ने के लिए मैदान में कदम रखा, लेकिन इसमें उन्‍हें जीत हासिल नहीं हुई. लेकिन इसके बाद भी उनका जज्‍बा कम नहीं हुआ. इसके बाद वह लगातार चुनावी दंगल में उतरते रहे और हारते रहे. डॉ. के पद्मराजन अभी तक 170 चुनाव लड़ चुके हैं, लेकिन 60 साल के पद्मराजन एक भी चुनाव नहीं जीत पाए. 

dr k padmarajan

डॉ. पद्मराजन एक होम्‍योपैथिक डॉटक्‍र हैं, जो बाद में बिजनेसमैन बन गए. वे खुद को ऑल इंडिया इलेक्‍शन किंग बोलते हैं. वे स्‍थानीय चुनावों से लेकर लोकसभा चुनावों तक में अपना हाथ आजमा चुके हैं. यही नहीं, वे राष्‍ट्रपति पद के लिए होने वाला चुनाव भी लड़ चुके हैं, लेकिन यहां भी असफल हुए. 

इन दिग्‍गजों के खिलाफ भी लड़ चुके हैं चुनाव...

अटल बिहारी वाजपेयी
मनमोहन सिंह
प्रणब मुखर्जी
एपीजे अब्‍दुल कलाम
जयललिता
करुणानिधि