close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव 2019: क्या लगातार तीसरी बार बठिंडा से जीत पाएंगी हरसिमरत कौर बादल

साल 2009 में हुए लोकसभा चुनाव में शिरोमणि अकाली दल ने हरसिमरत को बठिंडा से कांग्रेस के उम्मीदवार राहींदर सिंह के खिलाफ उतारा था. इस चुनावी जंग में हरसिमरत को पहली जीत मिली थी. 

लोकसभा चुनाव 2019: क्या लगातार तीसरी बार बठिंडा से जीत पाएंगी हरसिमरत कौर बादल
फोटो साभार- डीएनए

बठिंडा: हरसिमरत कौर बादल लोकसभा चुनाव2019 में पंजाब के बठिंडा से अकाली दल की उम्मीदवार हैं. हरसिमरत कौर 2009 से बठिंडा में जीतती आ रही हैं. वह भारत की प्रसिद्ध महिला राजनीतिज्ञों में से एक हैं और मोदी सरकार में वह खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री भी रह चुकी हैं. 

निजी जीवन
25 जुलाई, 1966 को दिल्ली के एक सिख परिवार में जन्मी हरसिमरत कौर गुड़गांव ट्राइडेंट होटल में निजी ज्वैलरी कारोबार चलाती थीं और एक फैशन डिजाइनर भी थीं. उन्हों दिल्ली के लारेटो कॉन्वेंट स्कूल से अपनी शुरुआती पढ़ाई की है और मैट्रिक्यूलेट और ड्रेस डिजाइन में उन्होंने डिप्लोमा किया है. उनकी शादी 21 नवंबर 1991 को सुखबीर सिंह बाद से हुई थी. इन दोनों की बेटियां और एक बेटा है. 

राजनीतिक सफर
पंजाब की राजनीति में सुखबीर सिंह बादल एक बड़ा नाम हैं. वहीं हरसिमरत के राजनीतिक सफर की शुरुआत 2009 में हुई थी. साल 2009 में हुए लोकसभा चुनाव में शिरोमणि अकाली दल ने हरसिमरत को बठिंडा से कांग्रेस के उम्मीदवार राहींदर सिंह के खिलाफ उतारा था. इस चुनावी जंग में हरसिमरत को पहली जीत मिली थी. 

हरसिमरत कौर ने अपने पहले भाषण में ही 1984 के सिख विरोधी दंगों के पीड़ितों और उनके परिवारों के बारे में बात की थी. इसके बाद 2014 में एक बार फिर हरसिमरत को इसी सीट से चुनावी मैदान में उतरीं. इस बार उनके सामने कांग्रेस के मनप्रीत सिंह बादल चुनावी मुकाबले में थे. हालांकि, दोनों के बीच कांटे का मुकाबले देखने को मिला था लेकिन बाजी हरसिमरत के हाथ लगी.