close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कनिमोझी संभाल रही हैं पिता करुणानिधि की सांस्कृतिक विरासत, 2 बार रह चुकी हैं राज्यसभा सदस्य

मुथुवेल करुणानिधि कनिमोझी के सौतेले भाई एम.के अलागिरी पूर्व केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं और एम.के. स्टालिन तमिलनाडु के पूर्व डिप्टी सीएम रह चुके हैं. 

कनिमोझी संभाल रही हैं पिता करुणानिधि की सांस्कृतिक विरासत, 2 बार रह चुकी हैं राज्यसभा सदस्य
फोटो साभार- DNA

नई दिल्ली: तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री करुणानिधि और उनकी तीसरी पत्नी रजती अम्माल की बेटी मुथुवेल करुणानिधि कनिमोझी फिलहाल तमिलनाडु से राज्यसभा सांसद हैं. वह द्रविण मुन्नेत्र कणगम पार्टी की सदस्य हैं और पार्टी की कला, साहित्य और तर्कवाद शाखा की प्रमुख भी हैं और इस प्रकार वह अपने पिता के साहित्यिक विरासत को संभाले हुए हैं. 

मुथुवेल करुणानिधि कनिमोझी के सौतेले भाई एम.के अलागिरी पूर्व केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं और एम.के. स्टालिन तमिलनाडु के पूर्व डिप्टी सीएम रह चुके हैं. यहां आपको बता दें कि कनिमोझी के पिता एम करुणानिधि की 7 अगस्त, 2018 को मौत हो गई थी. यहां आपको बता दें कि राजनीति में आने से पहले कनिमोझी पत्रकार थीं. उन्होंने द हिंदू, तमिल पत्रिका कुंगुमन और सिंगापुर के तमिल अखबार तमिल मुरासू में काम किया है. साथ ही वह तमिल में कविताएं भी लिखती रही हैं और वह राज्य में रोजगार मेलों आदि के आयोजन में काफी सक्रिय रही हैं. 

राजनीतिक करियर
साल 2007 में डीएमके द्वारा कनिमोझी को राज्यसभा का सदस्त बनाया गया था और इसके बाद वह 2013 में एक बार फिर से राज्यसभा सदस्य चुनी गईं थी. वह राज्यसभा में तमिलनाडु का प्रतिनिधित्व करती रही हैं और अक्सर राज्य के मसलों को उठाती रही हैं. साथ ही वह हिंदु नेशनल प्रेस यूनियन के अध्यक्ष के पद पर चुनी जाने वाली पहली महिला थीं और वह डीएमके के वुमैन विंग की सचिव भी हैं.