लोकसभा चुनाव : 2014 के आम चुनाव में लोजपा के हिस्से गई थी खगड़िया सीट

2014 में हुए आम चुनाव में लोजपा प्रत्याशी चौधरी महबूब अली कैसर को 313806 और आरजेडी के कृष्णा कुमारी यादव को 237803 मत मिले थे.

लोकसभा चुनाव : 2014 के आम चुनाव में लोजपा के हिस्से गई थी खगड़िया सीट
2014 में लोजपा के महबूब अली कैसर चुनाव जीते थे. (फाइल फोटो)

खगड़िया : 2014 के लोकसभा चुनाव में बिहार में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी), राम विलास पासवान की नेतृत्व वाली लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) और उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) साथ-साथ चुनाव लड़ रही थी. बिहार की खगड़िया लोकसभा सीट लोजपा के खाते में गई थी. यहां से पार्टी ने चौधरी महबूब अली कैसर को चुनावी मैदान में उतारा था. उन्होंने राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के कृष्णा कुमारी यादव को 75000 से अधिक मतों से चुनाव हराया था.

2014 में हुए आम चुनाव में लोजपा प्रत्याशी चौधरी महबूब अली कैसर को 313806 और आरजेडी के कृष्णा कुमारी यादव को 237803 मत मिले थे. वहीं, जेडीयू ने दिनेश चंद्र यादव को चुनावी मैदान में उतारा था, जिन्हें 220316 वोट मिले थे. इस चुनाव में खगड़िया के 896231 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था.

साल 1957 में हुए आम चुनाव में पहली बार खगड़िया सीट के लिए वोट डाले गए. इस चुनाव में कांग्रेस के जियालाल मंडल सांसद बने थे. 1962 में हुए अगले चुनाव में भी उनकी जीत हुई थी. 1967 और 1971 के चुनावों में सोशलिस्ट पार्टी का कब्जा रहा. इमरजेंसी के बाद 1977 में देश में हुए आम चुनाव में जनता पार्टी के ज्ञानेश्वर प्रसाद यादव विजयी हुए.

1980 में यहां फिर कांग्रेस की वापसी होती है. 1984 में भी कांग्रेस को ही जीत मिलती है. 1989 और 1991 में यहां जनता दल के राम शरण यादव चुनाव जीतीं. 1996 के चुनाव में जनता दल ने अनिल कुमार यादव को टिकट दिया था. वह जीतने में भी सफल हुए थे. 1998 में समता पार्टी, 1999 में जेडीयू ने यहां से जीत दर्ज की. 2004 के चुनाव में आरजेडी के रविंद्र कुमार राणा सांसद बने. 2009 में जेडीयू ने वापसी की.

खगड़िया लोकसभा चुनाव में इस बार 18 हज़ार 282 नए मतदाता अपने-अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह डीएम के मुताबिक, 667 भवनों में 1102 बूथ बनाया गया है. वोटर लिस्ट से 9 हज़ार 423 नाम हटाए गए हैं.