तिरुवल्लूर लोकसभा सीट पर AIADMK के लिए हैट्रिक लगाने की चुनौती

तमिलनाडु की तिरूवेल्लोर (एससी) सीट को एआईएडीएमके का गढ़ माना जाता है. फिलहाल यहां पर पी. वेणुगोपाल सांसद हैं. अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित इस सीट पर 2008 में परिसीमन के बाद दो बार चुनाव हुए हैं, दोनों ही बार चुनाव में एआईएडीएमके को जीत हासिल हुई है.

तिरुवल्लूर लोकसभा सीट पर AIADMK के लिए हैट्रिक लगाने की चुनौती

तमिलनाडु की तिरूवेल्लोर (एससी) सीट को एआईएडीएमके का गढ़ माना जाता है. फिलहाल यहां पर पी. वेणुगोपाल सांसद हैं. अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित इस सीट पर 2008 में परिसीमन के बाद दो बार चुनाव हुए हैं, दोनों ही बार चुनाव में एआईएडीएमके को जीत हासिल हुई है. तिरुवल्लूर जिले में पड़ने वाली तिरूवेल्लोर (एससी) सीट पर दोनों बार हुए चुनाव में एआईएडीएमके के पोन्नुसामी वेणुगोपाल को जीत मिली है. साल 2014 के चुनाव में AIADMK के पी वेणुगोपाल ने 3,23,430 मतों से जीत दर्ज की थी. वहीं उनके निकटतम प्रतिद्वंदी रविकुमार को 3,05,069 वोट मिले थे.

2009 में हुए चुनाव में वेणुगोपाल का मुकाबला डीएमके के उम्मीदवार गायत्री एस. से था. जिसमें वेणुगोपाल को 3,68,294 और डीएमके उम्मीदवार को 3,36,621 वोट मिले थे. साल 2011 की जनगणना के अनुसार यहां की कुल जनसंख्या 21,88,385 है. इसमें से 27.03 प्रतिशत आबादी एससी, 1.6 प्रतिशत एसटी की है. तिरुवल्लुर में 6 विधानसभा सीटें आती हैं.

इस संसदीय सीट की छह विधानसभा सीट पोन्नेरी Ponneri (SC), गुम्मीडीपोंडी (Gummidipundi), तिरुवल्लूर (Thiruvallur), पोनमल्ली Poonamallee (SC), अवादी (Avadi) और मदावरम ( Madavaram) शामिल हैं. साल 2014 के अनुसार इस सीट पर कुल 17,02,833 लाख मतदाता हैं. इनमें से 8,52,794 पुरुष मतदाता और 8,50,039 महिला मतदाता हैं.