ममता बनर्जी ने 440 वोल्ट करंट से की BJP की तुलना, कहा- देश के लिए है खतरा

ममता बनर्जी ने हुगली लोकसभा क्षेत्र से तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार रत्ना डे नाग के पक्ष में एक चुनावी रैली में कहा, ‘‘मैं आश्वासन देती हूं कि यदि टीएमसी सत्ता में आती है तो देश का कोई नुकसान नहीं होगा.’’

ममता बनर्जी ने 440 वोल्ट करंट से की BJP की तुलना, कहा- देश के लिए है खतरा
फाइल फोटो

पांडुआ: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के सियासी रण का पारा गर्मी के साथ ही लगातार बढ़ता जा रहा है. वहीं, राजनीतिक दलों के नेताओं द्वारा एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति भी रुकने का नाम नहीं ले रही है. इसी कड़ी में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा कि बीजेपी 440 वोल्ट की तरह देश के लिए सबसे बड़ा खतरा है. उन्होंने कहा कि लोगों को बीजेपी को खारिज कर देना चाहिए तथा उसके पक्ष में वोट देने से परहेज करना चाहिए.

 

 

ममता बनर्जी ने हुगली जिले के पांडुआ में हुगली लोकसभा क्षेत्र से तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार रत्ना डे नाग के पक्ष में एक चुनावी रैली में कहा, ‘‘मैं आश्वासन देती हूं कि यदि टीएमसी सत्ता में आती है तो देश का कोई नुकसान नहीं होगा.’’ बनर्जी ने कहा, ‘‘बीजेपी और नरेंद्र मोदी यदि दूसरी बार सत्ता में आए तो वे देश को बर्बाद कर देंगे. बीजेपी 440 वोल्ट की तरह देश के लिए सबसे बड़ा खतरा है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘अब माकपा के हरमद (गुंडे) बीजेपी के उस्ताद बन गये हैं.’’ 

उन्होंने सवाल किया कि धर्म के नाम पर देश को बांटने के लिए उतारू बीजेपी कैसे सत्ता में लौटने का आकांक्षा पाल सकती है. उन्होंने कहा, ‘‘बीजेपी कैसे यह दावा कर सकती है कि वह हिंदुओं की पार्टी है. बीजेपी के मन में हिंदू धर्म के प्रति कोई सम्मान नहीं है. मोदी की पार्टी देश में दंगे जैसी अशांति पैदा करने के लिए है.’’ बनर्जी ने दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस ने तारकेश्वर, गंगासागर, दक्षिणेश्वर, तारापीठ और कंकालीताला जैसे धर्मस्थलों में ढेर सारा विकास किया है.

ममता ने बीजेपी पर वोट के लिये रुपये बांटने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘‘बीजेपी अनपढ़ों की पार्टी है. आप उससे क्या उम्मीद कर सकते हैं.’’ उन्होंने दावा किया कि भगवा पार्टी लोकसभा चुनाव में 80 सीटें भी हासिल नहीं कर पाएगी तथा आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, पंजाब, केरल, पश्चिम बंगाल और ओडिशा जैसे राज्यों में उसे एक भी सीट नहीं मिलेगी. मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘गुजरात, राजस्थान जैसे कुछ राज्यों में वोट बंट जायेंगे.’’