• 0/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    0बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    0कांग्रेस+

  • अन्य

    0अन्य

बाबरी विध्वंस में मैं भी शामिल थीं, अब अयोध्या में राम मंदिर बनाऊंगी: साध्वी प्रज्ञा

साध्वी प्रज्ञा ने कहा, 'मैं अयोध्या गई थी ढांचा तोड़ा था. मैं राम मंदिर बनाने जाऊंगी. भव्य मंदिर बनाउंगी.' यहां आपको बता दूं कि साध्वी प्रज्ञा इस वक्त 48 साल की हैं, जबकि अयोध्या में बाबरी विध्वंस साल 1992 में हुआ था. यानी उस वक्त साध्वी प्रज्ञा 21 साल की होंगी.

बाबरी विध्वंस में मैं भी शामिल थीं, अब अयोध्या में राम मंदिर बनाऊंगी: साध्वी प्रज्ञा
साध्वी प्रज्ञा लगातार अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में हैं.

भोपाल: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) में मध्य प्रदेश के भोपाल सीट से बीजेपी प्रत्याशी बनाई गईं साध्वी प्रज्ञा ने चुनावी सभा में दावा किया है कि बाबरी विध्वंस में वह भी शामिल थीं. साध्वी प्रज्ञा ने कहा, 'मैं अयोध्या गई थी ढांचा तोड़ा था. मैं राम मंदिर बनाने जाऊंगी. भव्य मंदिर बनाउंगी.' यहां आपको बता दूं कि साध्वी प्रज्ञा इस वक्त 48 साल की हैं, जबकि अयोध्या में बाबरी विध्वंस साल 1992 में हुआ था. यानी उस वक्त साध्वी प्रज्ञा 21 साल की होंगी.

उन्होंने कहा, 'हम भव्य मंदिर बनाने जाएंगे. राम मंदिर वाले बयान पर मुझे दो नोटिस मिले हैं. हम विधिवत जवाब देंगे. मैं धर्म की बात कर रही हूं. अपने राम पर बात कर रही हूं. मैंने जो कहा अपनी बात पर अडिग हूं.'

साध्वी ने दिग्विजय पर साधा निशाना
दिग्विजय के जीवन में हिंदुत्व नहीं है. उनकी डिक्शनरी में भी हिंदुत्व नहीं है. यह वह खुद कह रहे हैं. मैं भी उनके लिए यही कहती हूं. मुझे चुनाव आयोग से हेमंत करकरे और बाबरी मस्जिद पर दो नोटिस मिले हैं, मैं विधिवत जवाब दूंगी. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान पर साध्वी ने कहा कि जनता के बीच में मुझे आतंकवादी बता दिया अब कह रहे मैंने चाकू मरवा दिया. अब पता नहीं क्या क्या कहेंगे. प्रज्ञा ने बताया कि वह 23 अप्रैल को भोपाल  को मैं अपना नामांकन दाखिल करूंगी.

साध्वी को चुनाव प्रचार के लिए वाहन की मिली अनुमति
भोपाल लोकसभा से BJP प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा को स्थानीय जिला प्रशासन ने अनुमति दे दी है. अब साध्वी प्रज्ञा चुनाव प्रचार में वाहन का इस्तेमाल कर सकती हैं. भोपाल के एडीएम ने इजाजत दी है. 19 अप्रैल को जिला BJP ने अनुमति पत्र स्थानीय जिला प्रशासन को दिया था. 20 अप्रैल को पूरे दिन BJP प्रत्याशी और कार्यकर्ता अनुमति का इंतजार करते रहे.

प्रज्ञा को जारी हुआ कारण बताओ नोटिस
निर्वाचन आयोग ने 26:11 के मुम्बई आतंकी हमले में शहीद हुए पुलिस अधिकारी हेमंत करकरे के बारे में दिये गये विवादित बयान पर भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को शनिवार को कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

29 सितम्बर, 2008 को मालेगांव में हुये बम धमाकों के मामले में प्रज्ञा आरोपी हैं और तकरीबन 9 साल जेल में रही हैं. इस बहुचर्चित मामले में वह इन दिनों जमानत पर चल रही हैं.

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं भोपाल कलेक्टर सुदाम खाड़े ने बताया, ‘हमने प्रज्ञा के इस बयान पर स्वत: संज्ञान लिया है. इस संबंध में हमने प्रज्ञा एवं कार्यक्रम के आयोजक भाजपा भोपाल जिलाध्यक्ष विकास वीराना को आज कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है.’

उन्होंने कहा, ‘इस संबंध में वे एक दिन में स्पष्टीकरण प्रस्तुत करें, अन्यथा समयावधि में उत्तर प्रस्तुत न किये जाने की दशा में एक पक्षीय कार्रवाई की जाएगी.’