close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चुनाव 2019: समाजवादी पार्टी ने घोषित की तीन उम्मीदवारों की सूची, अबतक 22 को दिया टिकट

फैजाबाद से वरिष्ठ नेता रहे मित्रसेन यादव के बेटे और बाहुबली राजनेता आनंदसेन यादव को टिकट दिया गया है. इसके अलावा एटा से देवेंद्र यादव को, जबकि पीलीभीत से हेमराज वर्मा को टिकट दिया गया है.

चुनाव 2019: समाजवादी पार्टी ने घोषित की तीन उम्मीदवारों की सूची, अबतक 22 को दिया टिकट
फाइल फोटो

लखनऊ: लोकसभा चुनाव 2019 के लिए राजनीतिक दलों की ओर से उम्मीदवारों के नामों की घोषणा शुरू हो चुकी है. इसी के मद्देनजर समाजवादी पार्टी (एसपी) ने मंगलवार को लोकसभा प्रत्याशियों की एक और सूची जारी कर दी है. एसपी की ओर से जारी की गई इस सूची में उत्तर प्रदेश के तीन उम्मीदवारों के नाम पर मुहर लगाई गई है. सूची के अनुसार, फैजाबाद से वरिष्ठ नेता रहे मित्रसेन यादव के बेटे और बाहुबली राजनेता आनंदसेन यादव को टिकट दिया गया है. वह मिल्कीपुर से विधायक रह चुके हैं. इसके अलावा एटा से देवेंद्र यादव को, जबकि पीलीभीत से हेमराज वर्मा को टिकट दिया गया है.

इससे पहले एसपी ने आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा सीट के लिए प्रत्याशियों का ऐलान किया था. आजमगढ़ से एसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और रामपुर से आजम खान को प्रत्याशी बनाया गया है. समाजवादी पार्टी ने यूपी में अब तक 19 प्रत्याशियों और मध्य प्रदेश में एक उम्मीदवार का नाम घोषित किया है. 

आजमगढ़ में नहीं चली थी मोदी लहर
2014 में हुए लोकसभा चुनावों में मोदी लहर के बीच कुछ चुनिंदा सीटें (5 सपा और दो कांग्रेस) ऐसी थीं जहां कमल नहीं खिल पाया था. आजमगढ़ भी उन चुनिंदा सीटों में से एक थी. 2014 में इस सीट पर अखिलेश के पिता मुलायम सिंह यादव विजयी हुए थे. यह सीट लंबे समय से सपा का गढ़ मानी जाती रही है लेकिन 2009 में यह सीट बीजेपी के हाथ लग गई थी. अब 2019 में इस सीट पर अखिलेश यादव के लड़ने से सपा की मजबूत दावेदारी दिखाई दे रही है और इस बार सपा-बसपा के एक साथ चुनाव लड़ने की वजह से इस सीट पर मुकाबला दिलचस्प हो सकता है.