अमेठी में राहुल गांधी के नामांकन पत्र पर आज फैसला संभव, कोर्ट पहुंचे वकील

ध्रुव लाल ने राहुल गांधी की नागरिकता पर सवाल उठाते हुए उनके नामांकन पत्र की जांच की मांग की थी. उनके वकील का कहना था है कि ब्रिटेन की एक रजिस्‍टर्ड कंपनी के दस्‍तावेजों में उन्‍होंने अपनी ब्रिटिश नागरिकता का उल्‍लेख किया है और गैर भारतीय देश में चुनाव नहीं लड़ सकता है.

अमेठी में राहुल गांधी के नामांकन पत्र पर आज फैसला संभव, कोर्ट पहुंचे वकील
राहुल गांधी के अमेठी से नामांकन पर फैसला आज संभव है. फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी द्वारा यूपी के अमेठी में दाखिल किए गए नामांकन पत्र की जांच पर आज फैसला हो सकता है. दरअसल राहुल गांधी केरल के वायनाड के अलावा यूपी के अमेठी से भी चुनाव लड़ रहे हैं. उन्‍होंने अमेठी में अपना जो नामांकन पत्र दाखिल किया है, उस पर यहां से ही निर्दलीय प्रत्‍याशी ध्रुवपाल कौशल ने आपत्ति दर्ज कराई थी. राहुल गांधी के नामांकन पत्र को लेकर दाखिल आपत्ति पर सुनवाई को लेकर कोर्ट पहुंच गए हैं.

उनके अनुसार राहुल गांधी ने अपने नामांकन पत्र में गलत जानकारी दी है. ध्रुवपाल ने रिटर्निंग आफिसर से इसकी जांच करने की मांग की थी. इस पी रिटर्निंग ऑफिसर ने राहुल के नामांकन पत्र की जांच 22 अप्रैल तक टाल दी थी. ऐसे में आज इस पर अहम फैसला आ सकता है.

ध्रुव लाल ने राहुल गांधी की नागरिकता पर सवाल उठाते हुए उनके नामांकन पत्र की जांच की मांग की थी. उनके वकील रवि प्रकाश का कहना था है कि ब्रिटेन की एक रजिस्‍टर्ड कंपनी के दस्‍तावेजों में उन्‍होंने अपनी ब्रिटिश नागरिकता का उल्‍लेख किया है और गैर भारतीय देश में चुनाव नहीं लड़ सकता है.

 

रवि प्रकाश का कहना है कि इसके साथ ही राहुल शैक्षणिक सर्टिफिकेट में भी कई सारी गलतियां हैं. उन्‍होंने मांग की कि राहुल गांधी के असली शैक्षणिक दस्‍तावेज सामने आने चाहिए. बता दें राहुल गांधी केरल की वायनाड से भी चुनाव लड़ रहे हैं. वह वहां भी अपना नामांकन दाखिल कर चुके हैं.

वहीं बीजेपी ने भी राहुल गांधी की नागरिकता पर सवाल उठाए थे. बीजेपी प्रवक्‍ता जीवीएल नरसिम्‍हा ने शनिवार को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करके राहुल गांधी से उनकी नागरिकता को लेकर जवाब मांगा था. उन्‍होंने कहा था कि राहुल गांधी बताएं कि वह ब्रिटिश नागरिक हैं या नहीं? उन्‍होंने आरोप लगाया कि एक कंपनी में राहुल की नागरिकता ब्रिटिश दर्ज है.

बीजेपी प्रवक्‍ता जीवीएल नरसिम्‍हा के अनुसार राहुल गांधी और उनके वकील राहुल कौशिक अमेठी में नामांकन पत्र पर रिटर्निंग अफसर के ऑब्जेक्शन का जवाब नहीं दे सके हैं. उनको 22 तारीख का टाइम दिया गया है. ये आश्चर्य की बात है कि उनके पास जवाब नहीं था. कांग्रेस और राहुल गांधी को जवाब देना पड़ेगा.