close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इस शहर के 4 पोलिंग बूथों पर नहीं पड़ा एक भी वोट, वोटरों के इंतजार में बैठे रहे अफसर

लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में रविवार को केन्द्र शासित क्षेत्र चंडीगढ़ और सात राज्यों की 59 सीटों पर रात नौ बजे तक 63.28 प्रतिशत मतदान हुआ. पिछले छह चरण की तुलना में मतदान का यह सबसे कम प्रतिशत है.

इस शहर के 4 पोलिंग बूथों पर नहीं पड़ा एक भी वोट, वोटरों के इंतजार में बैठे रहे अफसर
फिरोजपुर का मामला. फाइल फोटो

चंडीगढ़ : लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में पंजाब के फिरोजपुर संसदीय क्षेत्र के चार बूथों पर कोई मतदाता वोट डालने नहीं पहुंचा. फिरोजपुर छावनी इलाके के बूथ संख्या 61, 62, 63 और 64 पर मतदान कर्मचारी लोगों के इंतजार में बैठे रहे, लेकिन कोई अपने मताधिकार का प्रयोग करने नहीं आया. पंजाब के मुख्य चुनाव अधिकारी एस करुणा राजू ने रविवार की शाम बताया कि सूचना है कि इन चार बूथों पर मतदान नहीं हुआ.

उन्होंने बताया कि इन बूथों के लिए 4,500 मतदाता पंजीकृत हैं. राजू ने बताया कि मामले की जांच करने पर पता चला कि सेना की इकाइयां यहां से चली गई हैं, इसलिए यहां कोई वोट डालने नहीं पहुंच सका. बता दें कि लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में रविवार को केन्द्र शासित क्षेत्र चंडीगढ़ और सात राज्यों की 59 सीटों पर रात नौ बजे तक 63.28 प्रतिशत मतदान हुआ. पिछले छह चरण की तुलना में मतदान का यह सबसे कम प्रतिशत है.

 

चुनाव आयोग के सुविधा एप के मतदान संबंधी आंकड़ों के मुताबिक सातवें चरण में पंजाब, चंडीगढ़ और पश्चिम बंगाल में पिछले चुनाव की तुलना में मत प्रतिशत घटा है जबकि मध्य प्रदेश और हिमाचल प्रदेश सहित अन्य राज्यों में मतदान के स्तर में इजाफा दर्ज किया गया.

उल्लेखनीय है कि सभी सात चरण का चुनान संपन्न होने के साथ ही चुनाव मैदान में उतरे 8049 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला ईवीएम में कैद हो गया. इसका खुलासा आगामी 23 मई को मतगणना के बाद हो सकेगा.

पिछले सात चरण में लोकसभा की 543 सीटों में से 542 सीट पर मतदान हो चुका है. तमिलनाडु की वेल्लोर सीट पर मतदान में गड़बड़ी की आशंका की शिकायतों के मद्देनजर मतदान स्थगित कर दिया गया था. आयोग ने अभी वेल्लोर सीट पर मतदान की तिथि निर्धारित नहीं की है.

सुविधा एप के आंकड़ों के मुताबिक रात नौ बजे तक पश्चिम बंगाल की नौ सीटों पर सबसे ज्यादा 73.51 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया. हालांकि पिछले चुनाव की तुलना में इन सीटों पर 5.64 प्रतिशत कम मतदान हुआ. जबकि पंजाब की 13 सीटों पर रात नौ बजे तक 60.43 प्रतिशत मतदान हुआ. यह पिछले चुनाव की तुलना में 8.14 प्रतिशत कम रहा. इसी तरह चंडीगढ़ सीट पर पिछले चुनाव की तुलना में 10.27 प्रतिशत कम मतदान दर्ज करते हुये मत प्रतिशत 63.57 रहा.