Zee Rozgar Samachar

रुझानों के बाद बोले रामदेव, अब अगले 10-15 सालों तक विपक्ष को करना पड़ेगा अनुलोम-विलोम

उन्होंने कहा कि 2019 के चुनाव नतीजों के बाद अब विपक्षी दलों को सत्ता में आने का सपना छोड़ देना चाहिए. योग गुरु ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनेगा. जम्मू कश्मीर से धारा 370 भी हटेगी.

रुझानों के बाद बोले रामदेव, अब अगले 10-15 सालों तक विपक्ष को करना पड़ेगा अनुलोम-विलोम
योगगुरु बाबा रामदेव (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Results 2019) के रुझानों ने ये संकेत दे दिया है कि एक बार फिर से देश में मोदी सरकार बनने जा रही है. एग्जिट पोल्स के आंकड़े एक बार फिर से सही होते दिखाई दे रहे हैं. बीजेपी की बढ़त के बाद योग गुरु बाबा रामदेव ने एनडीए को बधाई देते हुए कहा कि लोकतंत्र के महापर्व पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जीत पाई है. इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर भी जमकर हमला बोला. 

योग गुरु बाबा रामदेव (Baba Ramdev) ने रुझानों पर कहा कि साल 2019 ही नहीं बल्कि आगे के दस-पंद्रह साल तक विपक्ष के नेताओं को अनोरोम विलोम करना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि देश में ओबीसी, मुस्लिम, दलित और किसानों को बहकाने के लिए विपक्ष ने काम किया, लेकिन पीएम मोदी ने को देश की जनता ने उनके कामों के लिए उन्हें फिर से सत्ता सौंपने का मन बनाया और भारी मतों से एक बार फिर जीताया.  

उन्होंने कहा कि 2019 के चुनाव नतीजों के बाद अब विपक्षी दलों को सत्ता में आने का सपना छोड़ देना चाहिए. योग गुरु ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनेगा. जम्मू कश्मीर से धारा 370 भी हटेगी. इसके साथ ही संपत्ति खरीदने पर रोक लगाने वाला अनुच्छेद 35 ए भी हटेगी. 

लाइव टीवी देखें

आपको बता दें कि सात चरणों में हुए लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election Results 2019) की मतगणना जारी है. अभी तक आए देशभर की सभी 542 सीटों के रुझानों में बीजेपी+ 351 सीट, कांग्रेस+ 87 सीट, जबकि अन्‍य 104 सीटों पर आगे है. शुरुआती रुझानों से ही बीजेपी देशभर में बढ़त बनाए हुए है, जबकि कांग्रेस पीछे चल रही है. वाराणसी सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने प्रतिद्वंद्वी उम्‍मीदवारों से आगे चल रहे हैं. सुबह साढ़े दस बजे तक हिंदीभाषी राज्‍यों के सभी सीटों के रुझान सामने आ गए थे, जिनमें बीजेपी ने बड़ी बढ़त बनाई.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.