close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पश्चिम बंगाल: ममता बनर्जी का आरोप, 'BJP के लिए काम कर रहे हैं केंद्रीय बल'

ममता बनर्जी ने दावा किया कि मतदान प्रक्रिया को बीजेपी को मदद पहुंचाने के लिए तीन महीने तक खींचा गया है.

पश्चिम बंगाल: ममता बनर्जी का आरोप, 'BJP के लिए काम कर रहे हैं केंद्रीय बल'
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फोटो साभार - ANI)

आरामबाग/खानाकुल (पश्चिम बंगाल): तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी ने मंगलवार को आरोप लगाया कि राज्य में केंद्रीय बल मतदान केंद्रों के अंदर अवैध तरीके से बैठकर बीजेपी के लिए काम कर रहे हैं और लोगों से इस पार्टी को वोट देने के लिए कह रहे हैं.  ममता बनर्जी ने दावा किया कि मतदान प्रक्रिया को बीजेपी को मदद पहुंचाने के लिए तीन महीने तक खींचा गया है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें जानकारी मिली है कि मंगलवार को मतदान के दौरान मालदा दक्षिण और बालूरघाट सीटों पर केंद्रीय बल लोगों से बीजेपी के लिए वोट डालने को कह रहे हैं. उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को इस मामले में अवगत करा दिया गया है.

उन्होंने कहा, ‘मुझे सूचना मिली थी कि मालदा दक्षिण के इंग्लिश बाजार में केंद्रीय बल बूथों के अंदर बैठे हैं और मतदाताओं से बीजेपी के लिए वोट डालने को कह रहे हैं. उन्हें ऐसा करने का अधिकार नहीं है. हमने इस बारे में चुनाव आयोग को अवगत करा दिया है.’

ममता बनर्जी ने कहा, ‘वे ऐसा क्यों कर रहे हैं? वे मतदान केंद्र पर नहीं जा सकते. यह उनका काम नहीं है. निर्वाचन अधिकारी की मंजूरी के बिना.’ उन्होंने आरोप लगाया कि इतर में भी एक मतदान केंद्र पर तैनात केंद्रीय बल कतारों में खड़े मतदाताओं को बीजेपी के लिए वोट डालने को कह रहे हैं.

ममता बनर्जी ने की केंद्रीय बलों से अपील
बनर्जी ने केंद्रीय बलों से अपील की कि बीजेपी नेताओं के किसी निर्देश का पालन नहीं करें क्योंकि नरेंद्र मोदी सरकार की वापसी की कोई उम्मीद नहीं है. उन्होंने एक चुनावी रैली में कहा,‘कृपया पुलिस का काम करें. बीजेपी की नहीं सुनें और आम आदमी के लिए काम करें. आप हमारे मित्र हैं. कल जब हमारी सरकार केंद्र में होगी तो आपको हमारे साथ काम करना होगा. मोदी अब वहां नहीं रहेंगे.’

ममता बनर्जी ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर भी निशाना साधा जिन्होंने सोमवार को राज्य में एक रैली में दावा किया था कि आयोग की तटस्थता ममता बनर्जी की चुनावी धांधली के लिए बड़ा झटका है. तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि चुनाव के दौरान केंद्रीय बल एक राज्य में आ सकते हैं लेकिन उन्हें राज्य के बलों के सहयोग से काम करना चाहिए और चले जाना चाहिए.

बीजेपी पर केंद्रीय बलों के इस्तेमाल का आरोप लगाते हुए बनर्जी ने कहा,‘आप केंद्रीय बलों का इस्तेमाल नहीं कर सकते. आपने पश्चिम बंगाल में 2016 के विधानसभा चुनावों में भी ऐसा किया था. मैं भूली नहीं हूं.’ उन्होंने पूछा कि क्या बीजेपी ने उन राज्यों में चुनावों के दौरान केंद्रीय बलों की मांग की जहां पार्टी सत्ता में है. उन्होंने दावा किया कि पश्चिम बंगाल की जनता बीजेपी को उचित सबक सिखाएगी.

पश्चिम बंगाल में मंगलवार को 5 लोकसभा क्षेत्रों में वोटिंग हुई
पश्चिम बंगाल में मंगलवार को पांच लोकसभा क्षेत्रों के लिए मतदान हुआ और करीब 92 प्रतिशत मतदान केंद्रों पर केंद्रीय बलों को तैनात किया गया है. बाद में हुगली जिले के खानाकुल में रैली को संबोधित करते हुए बनर्जी ने लोकसभा चुनावों के समय पर सवाल खड़े किए और दावा किया कि बीजेपी के इशारे पर मतदान प्रक्रिया को तीन महीने तक खींचा गया.

उन्होंने कहा कि देश के इतिहास में चुनाव कभी इतने लंबे समय तक नहीं हुए. उन्होंने कहा, ‘यह हमारा दुर्भाग्य है कि लोकसभा चुनाव काफी गर्मी के मौसम में हो रहा है. अब काफी गर्मी हो गई है. गर्मी से लड़ते हुए लोगों को मतदान करना होगा.’ उन्होंने कहा, ‘पिछले वर्ष हमने (पश्चिम बंगाल सरकार) पंचायत चुनाव मार्च तक खत्म कर लिए थे. लेकिन उन्होंने आम चुनावों को मई तक खींचा है.’

उन्होंने दावा किया कि आम चुनावों की योजना इस तरह बनाई गई कि बीजेपी नेताओं के हिसाब से उपयुक्त हो. उन्होंने कहा,‘चुनाव सात चरणों में हो रहे हैं. इसका कार्यकम इस तरह से बनाया गया है कि बीजेपी नेता चुनाव प्रचार के लिए एक राज्य से दूसरे राज्य जा सकते हैं.’