close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शपथ ग्रहण के बाद मालदीव, श्रीलंका या नेपाल की यात्रा पर जा सकते हैं PM मोदी

पीएम का शपथ ग्रहण समारोह 30 मई को हो सकता है. सूत्रों के अनुसार नई सरकार के शपथ लेने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पहली यात्रा किसी पड़ोसी देश की कर सकते है. मालदीव, श्रीलंका या नेपाल की यात्रा पर जा सकते है.

शपथ ग्रहण के बाद मालदीव, श्रीलंका या नेपाल की यात्रा पर जा सकते हैं PM मोदी

नई दिल्‍ली: लोकसभा चुनाव 2019 के रण को जीतकर पीएम मोदी एक बार फिर से पीएम बनने जा रहे हैं. पीएम का शपथ ग्रहण समारोह 30 मई को हो सकता है. सूत्रों के अनुसार नई सरकार के शपथ लेने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पहली यात्रा किसी पड़ोसी देश की कर सकते है. मालदीव, श्रीलंका या नेपाल की यात्रा पर जा सकते है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अधिकारिक रूप से पहली यात्रा 14-15 जून को किर्गिस्तान की तय है, जहां वह SCO summit में शामिल होंगे. इसके बाद 28-29 जून को प्रधानमंत्री जापान के ओसाका में G-20 सम्मेलन में शामिल होंगे. अगस्त में प्रधानमंत्री विकसित देशों के समूह G-7 के सम्मेलन में फ्रांस जाएंगे.

सितम्बर में प्रधानमंत्री का दौरा रूस के वलादिवोस्टक होगा. जहां पर प्रधानमंत्री economic summit में भाग लेंगे. सितम्बर में प्रधानमंत्री का दौरा न्यूयॉर्क का प्रस्तावित है. इसके बीच बीच में प्रधानमंत्री की दुनिया के कई देशों के प्रमुखों के साथ दिपक्षीय बैठके भी होगी.

मोदी के लिए अमेरिकी नेताओं के बधाई संदेशों का तांता
चुनाव में ‘निर्णायक जीत’ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प सहित अमेरिका के शीर्ष नेताओं की ओर से बधाई संदेश की झड़ी लगी हुई है. राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा कि मोदी के दूसरे कार्यकाल में भारत और अमेरिका के रणनीतिक संबंधों में ‘बहुत सी अच्छी बातें’ होने जा रही हैं. ट्रम्प ने ट्वीटर संदेश में लिखा, ‘प्रधानमंत्री@नरेंद्रमोदी और उनकी भाजपा पार्टी को उनकी भारी जीत पर बधाई हो!’ उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री के फिर नेतृत्व संभालने के बाद भारत-अमेरिका रणनीतिक भागीदारी में बहुत सी अच्छी बातें जोने जा रही हैं. मुझे खुशी है कि हम मिलकर अपने महत्वपूर्ण काम को आगे जारी रख सकेंगे.’

अमेरिकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने ट्वीट किया, ‘अमेरिका के साथी और दोस्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारत के संसदीय चुनाव में उनकी जीत पर बधाइयां.’ उन्होंने इस जीत को ‘लोकतंत्र के प्रति भारत की जनता की प्रतिबद्धता की सशस्त अभिव्यक्ति’ बताते हुए कहा कि ‘हमे भारत के साथ मिल कर क्षेत्र को अधिक मुक्त, सुरक्षित और अधिक समृद्ध बनाने का काम जारी रखने की खुशी है.’