close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: CEC ने चुनाव की तैयारियों के लिए की बैठक, अधिकारियों को दिए निर्देश

सचिवालय परिसर स्थित समिति कक्ष में हुई इस बैठक में मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने सभी नोडल अधिकारियों से चुनावी तैयारियों के बाबत चर्चा की. 

राजस्थान: CEC ने चुनाव की तैयारियों के लिए की बैठक, अधिकारियों को दिए निर्देश
CEC ने आचार संहिता के पालना के लिए कई निर्देश दिए. (फोटो साभार: निर्वाचन कार्यालय,जयपुर)

जयपुर: लोक सभा चुनाव 2019 की तैयारियों को लेकर बुधवार को निर्वाचन व्यय अनुवीक्षण के संबंध में विभिन्न विभागों के नोडल अधिकारियों की बैठक सम्पन्न हुई. बैठक में आबकारी, आयकर, वाणिज्य कर, नारकोटिक्स, रेलवे, एयरपोर्ट आथोरिटी विभाग के अधिकारियों ने हिस्सा लिया. सचिवालय परिसर स्थित समिति कक्ष में हुई इस बैठक में मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने सभी नोडल अधिकारियों से चुनावी तैयारियों के बाबत चर्चा की. 

इस दौरान उन्होंने कहा कि आचार संहिता के दौरान पर्ची के आधार पर शराब की बिक्री नहीं हो. इसके साथ ही प्रतिदिन शराब की बिक्री की मॉनीटरिंग भी की जाए. उन्होंने गोदाम से शराब बिक्री नहीं करने, निगरानी के लिए मुखबिर बढ़ाने और चैक पोस्ट की संख्या में बढ़ोतरी करने पर जोर दिया.

एक लाख से ज्यादा के लेन देन पर रहेगी निगाहें

बैठक के दौरान उन्होंने वहां मौजूद अधिकारियों को निर्देश दिया कि राज्य स्तरीय बैंकिंग समिति प्रदेश में एक लाख रुपए से ज्यादा के लेन-देन करने वालों पर कड़ी नजर रखे और चुनाव में उम्मीदवार के अलग अकाउंट खोलने के लिए सभी बैंकों को निर्देश जारी करें. उन्होंने कहा कि आयकर विभाग एयरपोट्र्स नगदी पर नजर रखने के लिए टीमें गठित करें. साथ ही जिलों में भी इन्कम टैक्स की टीमें बनाई जाएं.

गृह विभाग के अधिकारियों को भी दिए निर्देश

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने गृह विभाग के अधिकारियों को कानून एवं व्यवस्था के लिए माकूल इंतजामात करने के साथ जिलेवार फ्लाइंग स्क्वायड बनाने, कैश पर निगरानी रखने सहित बैठक में मौजूद अन्य विभागों को भी आवश्यक निर्देश दिए. उन्होंने रेलवे अधिकारियों को कैश, शराब एवं मादक पदार्थों की आवाजाही पर कड़ी निगरानी रखने के साथ ही 10 लाख रुपए से ज्यादा की जब्ती पर आयकर विभाग को तत्काल सूचित करने के भी निर्देश दिए. 

इसके अलावा वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे जिलेवार टीमों का गठन करें. होलसेल का सामान रखने वाले ऐसे उत्पाद जिनका उपयोग चुनाव के दौरान मतदाताओं को लुभाने के लिए हो सकता है, उनकी भारी बिक्री पर कड़ी नजर रखी जाए. 

पुलिस विभाग को भी दिए निर्देश

उन्होंने पुलिस विभाग से फ्लाइंग स्क्वायड, एसएसटी की प्रतिदिन रिपोर्ट लेने,विशेष इवेंट्स की रिपोर्टिंग और वीडियोग्राफी करवाने, नाका और चेक पोस्ट्स पर सीसीटीवी से निगरानी और उनकी वीडियोग्राफी करवाने, आपत्तिजनक मोबाइल संदेशों के प्रति जनता को जागरूक करने सहित अन्य विषयों पर अब तक की गई कार्यवाही की जानकारी हासिल की.

बैठक के दौरान अतिरिक्त निर्वाचन आयुक्त जोगाराम, आईजी (सीआईडी, सीबी) विशाल बंसल, आयुक्त वाणिज्य कर प्रीतम बी. यशवंत, अतिरिक्त आयुक्त आबकारी सीआर देवासी, मातादीन शर्मा, अतिरिक्त निदेशक आयकर सुश्री सपना भाटिया, जोनल डायरेक्टर (एनसीबी) नारकोटिक्स विजेन्द्र सिंह, उत्तर-पश्चिम रेलवे के सीनियर पीआरओ कमल जोशी, एयरपोर्ट आथोरिटी से रतन सिंह, एसएलबीसी से राकेश कुमार शर्मा सहित संबंधित सभी अधिकारी उपस्थित थे.