close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PM मोदी बोले, 'सरकार सुनिश्चित कर रही है कि गरीबों तक पहुंचे केंद्र से मिला धन'

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘‘40 साल तक हम आतंकवाद को झेलते रहे हैं, आंसू बहाते रहे हैं. हमें और कितना झेलना चाहिए?’’ 

PM मोदी बोले, 'सरकार सुनिश्चित कर रही है कि गरीबों तक पहुंचे केंद्र से मिला धन'
फोटो सौजन्य: PTI

सम्बलपुर/भुवनेश्वर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 40 साल तक आतंकवाद के खिलाफ नरम रूख रखने के लिए मंगलवार को कांग्रेस की जमकर आलोचना की और कहा कि सीमा पार आतंकवादी शिविरों को नष्ट करके ताकत दिखाने के बाद अब भारत शांति की बात कर सकता है. पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने कांग्रेस समर्थित बिचौलियों को हटाने के लिए कदम उठाए हैं ताकि केन्द्र से मिलने वाला पैसा गरीबों तक पहुंच सके.

सम्बलपुर और भुवनश्वर में रैलियों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने भाजपा के सत्ता में आने पर किसानों और मछुआरों की बेहतरी के लिए कदम उठाने का वादा किया. पीएम मोदी ने कहा, ‘‘पहले शांति की बात करने पर कोई भारत की नहीं सुनता था. लेकिन हमारी ताकत देखने के बाद पूरी दुनिया हमारे साथ है. सिर्फ ताकतवर ही शांति की बात कर सकते हैं. कमजोर राष्ट्र की कोई नहीं सुनता है.’’ यह दोहराते हुए कि भाजपा साहस और आत्मविश्वास से लबरेज नया भारत बनाना चाहती है, पीएम मोदी ने कहा, ‘‘अगर हम ताकत दिखाते हैं तो ना सिर्फ भारत में बल्कि पूरे उपमहाद्वीप में शांति रहेगी.’’ 

जनसभा में एकत्र लोगों से यह सवाल करते हुए कि आतंकवदियों से लड़ने के लिए क्या सशस्त्र बलों को खुली छूटी नहीं दी जानी चाहिए. पीएम मोदी ने कहा, ‘‘40 साल तक हम आतंकवाद को झेलते रहे हैं, आंसू बहाते रहे हैं. हमें और कितना झेलना चाहिए?’’ उन्होंने दावा किया कि पहली बार इस चुनाव में केंद्र सरकार किसी सत्ता विरोधी लहर का सामना नहीं कर रही है और कांग्रेस जनता के बीच विश्वसनीयता खो चुकी है. उन्होंने दावा किया कि पहली बार केंद्र में सत्तारूढ़ दल विश्वास के साथ लोकसभा चुनाव लड़ रहा है, वहीं विपक्षी दल हताश हैं.

उन्होंने कहा कि लोग जानते हैं कि केंद्र में भाजपा नीत सरकार देश के विकास के लिए ईमानदारी से काम कर रही है और इस बार कोई सत्ता विरोधी लहर नहीं है. प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘लोग मोदी या भाजपा नीत सरकार से नाराज नहीं हैं. वे कांग्रेस और इसके महामिलावटी दोस्तों के रवैये के लिए उनसे नाराज हैं. वे झूठ फैला रहे हैं और झूठे आरोप लगा रहे हैं.’’ उन्होंने नाम लिये बिना कहा, ‘‘अब सब जानते हैं कि कांग्रेस का कोई मिशन नहीं है, वहीं इसके नेताओं के पास कोई विजन नहीं है. उनके कोई सिद्धांत और इरादे नहीं हैं.’’