BJP की सहयोगी पार्टी ने दिया अल्टीमेटम, कहा - कल तक सीटें नहीं दीं तो रास्ते अलग

 यूपी में बीजेपी की सहयोगी दल अपना दल को दो सीटें मिल चुकी हैं.

BJP की सहयोगी पार्टी ने दिया अल्टीमेटम, कहा - कल तक सीटें नहीं दीं तो रास्ते अलग
राजभर ने कहा, "बीजेपी की तरफ से समझौते में दी जाने वाली पांच लोकसभा सीटों की घोषणा का 26 मार्च तक इंतजार करूंगा.'

लखनऊ: लोकसभा चुनाव 2019 के समर में सियासी पारा गर्म है. उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सहयोगी पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर एक बार फिर बीजेपी से नाराज हैं. लोकसभा सीटें न मिलने से नाराज ओमप्रकाश राजभर ने बीजेपी को अल्टीमेटम दिया है. कल तक बीजेपी करें फैसला, नहीं तो एनडीए से अलग हो जाएंगे. ओमप्रकाश ने बीजेपी से पांच सीटें मांगी हैं. यूपी में बीजेपी की सहयोगी दल अपना दल और सुभासपा में से अपना दल को दो सीटें मिल चुकी हैं लेकिन राजभर पर अभी तक फैसला नहीं हुआ है. राजभर की पार्टी के चार विधायक हैं. 

राजभर ने कहा, "बीजेपी की तरफ से समझौते में दी जाने वाली पांच लोकसभा सीटों की घोषणा का 26 मार्च तक इंतजार करूंगा. इस तिथि तक बात नहीं बनी तो हमारे रास्ते अलग होंगे." जब उनसे पूछा गया कि अलग होकर कहां जाएंगे? उन्होंने कहा कि "अभी यह कहना जल्दबाजी होगी कि कहां जा रहे हैं. गठबंधन में भी जा सकते हैं. कांग्रेस में भी जा सकते हैं. हमारे लिए सारे विकल्प खुले हैं. हमारे ऊपर किसी पार्टी की राजिस्ट्री या बैनामा नहीं हुआ है."

राजभर ने कहा, "यदि अपना को दो सीटें दी जा सकती हैं तो हमारी मांग पर निर्णय क्यों नहीं लिया जा सकता? तदु बीजेपी महाराष्ट्र, गोवा, बिहार, छत्तीसगढ़ और झारखंड में गठबंधन फाइनल करती है तो हमें इंतजार क्यों करवाया जा रहा है."  

उनसे पूछा गया कि बीजेपी ने तो आपको निगमों में पद दिए, फिर भी आप खुश नहीं हैं? उन्होंने कहा, "वह बात कब की खत्म हो गई है. चुनाव के बाद सबकुछ खत्म हो जाएगा. जिस प्रकार उन्होंने (बीजेपी) अपना दल से बात की, उसी प्रकार वह हमसे बात तो करें."

राजभर कई मामलों को लेकर बीजेपी और योगी सरकार पर नाराजगी जता चुके हैं. शहरों का नाम बदले जाने पर उन्होंने आपत्ति जताई थी.