close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ओपी राजभर का विवादित बयान, कहा-बीजेपी कार्यकर्ता गलत सूचना फैलाएं तो उन्‍हें जूते मारो

ओपी राजभर की पार्टी सुभासपा उत्तरप्रदेश में बीजेपी की सहयोगी पार्टी है और 2017 के विधानसभा चुनाव में उसने चार सीटें जीती थीं. राजभर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री भी हैं.

ओपी राजभर का विवादित बयान, कहा-बीजेपी कार्यकर्ता गलत सूचना फैलाएं तो उन्‍हें जूते मारो

लखनऊ: बीजेपी की सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी Suheldev Bharatiya Samaj Party (SBSP) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने एक बार फिर विवादास्पद बयान देते हुए अपने समर्थकों से कहा है कि अगर भाजपा कार्यकर्ता गलत सूचना फैलाते हैं तो उन्हें जूते मारो. भाजपा ने इस बयान को अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण एवं आपत्तिजनक कहा है. राजभर ने घोसी लोकसभा क्षेत्र में एक बैठक के दौरान उक्त बात कही, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है.

उन्होंने कहा, 'अभी ये चर्चे तेजी से, भाजपा के लोग फैला रहे हैं कि गठबंधन है हम लोगों का और महेन्द्र (घोसी से सुभासपा प्रत्याशी) नहीं लड़ रहे हैं. यहां कितने लोग हैं बताओ महेन्द्र चुनाव लड़ रहे हैं या नहीं. जितनों को मालूम है, हाथ उठाओ... जो व्यक्ति इस तरह का बोलते हुए मिल जाए भाजपा का नेता, जूता निकाल के उसको दस जूता मारो कि तुम नहीं लड़ रहे हो.' सुभासपा ने लोकसभा चुनाव में उत्तरप्रदेश से 39 प्रत्याशी उतारे हैं.

राजभर के बयान पर भाजपा मीडिया संयोजक राकेश त्रिपाठी ने कहा कि यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण एवं आपत्तिजनक है. हम चुनाव आयोग से उम्मीद करते हैं कि वह इस पर संज्ञान ले और कडी कार्रवाई करे.  सुभासपा के झंडे कल मिर्जापुर में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के रोडशो के दौरान देखे गये थे. सुभासपा उत्तरप्रदेश में भाजपा की सहयोगी पार्टी है और 2017 के विधानसभा चुनाव में उसने चार सीटें जीती थीं. राजभर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री भी हैं.

राजभर के पुत्र सुभासपा महासचिव अरूण राजभर ने स्पष्ट किया कि भाजपा के साथ विधानसभा चुनाव के लिए गठबंधन था ना कि लोकसभा चुनाव के लिए.