close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजधानी पटना का रहा है बिहार में सबसे कम वोटिंग का रिकॉर्ड, अब आयोग कर रही है यह कवायद

वोटिंग के मामले में पटना निवासी राज्य के दूसरे जिलों से काफी पीछे रहे हैं. 2014 लोकसभा चुनाव के वक्त यहां कुल मतदान का प्रतिशत 45.36 रहा.

राजधानी पटना का रहा है बिहार में सबसे कम वोटिंग का रिकॉर्ड, अब आयोग कर रही है यह कवायद
पटना के मतदाताओं को जागरूक करने की कवायद की जा रही है.

पटनाः राजधानी पटना के वोटरों को जागरुक करने के लिए पटना जिला प्रशासन, पटना नगर निगम और चुनाव आयोग की तरफ से जोरदार कोशिश की गयी है. वोटर उत्साहित और जागरुक हों इसके लिए वोटिंग सेंटर को मधुबनी पेंटिंग से सजाया गया है. साथ ही साथ कई जगहों पर सेल्फी जोन भी बनाए गए हैं. जिससे कि पटना के वोटर 19 मई को ज्यादा से ज्यादा मतदान में शामिल हो सकें.

दरअसल, ये कवायद इसलिए की जा रही है. क्योंकि वोटिंग के मामले में पटना निवासी राज्य के दूसरे जिलों से काफी पीछे रहे हैं. पटना साहिब लोकसभा सीट की बात करें तो यहां 21 लाख 36 हजार 800 मतदाता हैं. 2014 लोकसभा चुनाव के वक्त यहां कुल मतदान का प्रतिशत 45.36 रहा.

2014 में पटना में 50 फीसदी से भी कम मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया. पटना साहिब का ये आंकडा बिहार के लोकसभा की 40 सीटों में सबसे कम रहा था. जबकि साल 2009 में हुए चुनाव के दौरान पटना साहिब लोकसभा का मतदान प्रतिशत महज 33.64 फीसदी रहा था.

पटना जिले में ही आने वाले पाटलीपुत्र लोकसभा सीट की स्थिती पटना साहिब से अच्छी रही थी. पाटलीपुत्र लोकसभा सीट में कुल मतदाता 19 लाख हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में यहां के 56.38 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था. जबकि साल 2009 के चुनाव में इसी सीट के लिए 41.17 फीसदी वोटिंग हुई थी. 

पटना जिला प्रशासन और चुनाव आयोग जिले के पिछले रिकार्ड को तोडने की कवायद में जुटा हुआ है. पटना के जिलाधिकारी सह निर्वाचन पदाधिकारी कुमार रवि कहते हैं कि जिला प्रशासन की कोशिश है कि ज्यादा से ज्यादा लोग अपने घरों से निकलें और वोट करें. वोटरों को उत्साहित करने के लिए मधुबनी पेंटिंग का सहारा लिया गया है. साथ ही सेल्फी जोन भी बनाये गये हैं.

पटना के गांधी मैदान में एक बड़ी रंगोली तैयार की गई है. जिलाधिकारी कुमार रवि ने कहा कि मतदान शांतिपूर्ण हो इसके लिए अर्धसैनिक बलों की टुकरियां पटना आ चुकी हैं. पटना के मसौढ़ी और पालीगंज में 4 बजे तक वोटिंग होगी. क्योंकि ये नक्सल प्रभावित इलाका है. इन इलाकों में भी सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था की गई है.