close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाटलिपुत्र सीट पर रामकृपाल यादव से है मीसा भारती की सीधी लड़ाई, 19 मई को वोटिंग

मीसा अपने भाषणों से जनता को लुभाने के प्रयास तो कर ही रही हैं, साथ ही जनता के बीच जाकर इमोशनल कार्ड भी खेल रही है. वह झोली फैलाकर जनता से अपने पक्ष में वोट डालने की अपील कर रही हैं.

पाटलिपुत्र सीट पर रामकृपाल यादव से है मीसा भारती की सीधी लड़ाई, 19 मई को वोटिंग
पाटलिपुत्र लोकसभा सीट पर आरजेडी और कांग्रेस की लड़ाई. (फाइल फोटो)

पटना : लोकसभा चुनाव में पाटलिपुत्र लोकसभा सीट पर एक बार फिर घमासान होने जा रहा है. इस बार भी 2014 आम चुनाव की तरह ही भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से रामकृपाल यादव और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) से लालू प्रसाद यादव की बड़ी बेटी मीसा भारती चुनावी मैदान में एक-दूसरे को टक्कर दे रही हैं. बीते चुनाव में अपने प्रतिद्वंदी रामकृपाल यादव से 40 हजार से ज्यादा मतों से चुनाव हारने वाली मीसा भारती इस बार कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती हैं. मीसा के इस प्रयास में उनके दोनों भाई तेजस्वी और तेजप्रताप यादव भी पूरे जी-जान से लगे हैं.

मीसा हर दिन पाटलिपुत्र की जनता के बीच जाकर उन्हें लुभाने के प्रयास कर रही है. कभी विकास के मुद्दे पर तो कभी अपने पिता लालू यादव के साथ हो रहे अन्याय की बात पर विपक्ष को घेरने की कोशिश करती है. दानापुर, फुलवारी, मसौढ़ी, पालीगंज, बिहटा, बिक्रम, नौबतपुर और आरजेडी के गढ़ कहे जाने वाले मनेर में वो दिन-रात चुनाव प्रचार कर रही हैं.

मीसा अपने हर चुनावी मंच से बीजेपी पर हमलावर होती दिखती हैं. उनका कहना है कि बीजेपी के पास कोई मुद्दा नहीं है. चुनाव भारत में हो रहा है और बात पाकिस्तान की की जा रही है. साथ ही यह भी कहती है कि महागठबंधन के पास मुद्दे ही मुद्दे हैं, जिसको लेकर हम जनता के पास जा रहे हैं.

अपने चुनावी भाषण में मीसा भारती कहती हैं कि पाटलिपुत्र की जनता ने उन्हें अपना पसीना दिया है और जरूरत पड़ी तो वो अपना खून भी देने से पीछे नही हटेंगी. मीसा अपने भाषणों से जनता को लुभाने के प्रयास तो कर ही रही हैं, साथ ही जनता के बीच जाकर इमोशनल कार्ड भी खेल रही है. वह झोली फैलाकर जनता से अपने पक्ष में वोट डालने की अपील कर रही हैं.

मौजूदा सांसद और बीजेपी प्रत्याशी रामकृपाल यादव भी इस बार दोगुने जोश से चुनाव प्रचार में लगे हुए हैं. उन्होंने मनेर से ही सबसे पहले सेंधमारी शुरू कर दी है. इससे आरजेडी खेमे थोड़ी हलटल जरूर मची है. पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र के कई लोग तो दबी जुबान यह भी कह रहे हैं कि इस बार पाटलिपुत्र सीट पर आरजेडी का ही कब्जा होगा. 
2014 लोकसभा चुनाव की बात करें तो पाटलिपुत्र लोकसभा सीट पर बीजेपी प्रत्याशी को कुल 3,83,262 वोट मिले थे. वहीं, मीसा भारती के खाते में कुल 3,42,940 मत पड़े थे. मीसा 2014 का चुनाव 40 हजार मतों से हार गई थीं. इस चुनाव में वह कोई कसर छोड़ना नहीं चाहती हैं. शायद यही वजह है कि हर तबके और हर वर्ग के लोगों के पास खुद जा रही हैं.

बिहटा के कुंजवा में ही मीसा भारती का ससुराल है. जहां पिछली बार की तरह इस बार भी मीसा का दौरा होगा. यहां वह बहु कार्ड खेलकर वोटरों को अपने पक्ष में करने का प्रयास करेंगी. ज्ञात हो कि पाटलिपुत्र लोकसभा सीट पर 19 मई को वोट डाले जाएंगे.