close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सीधी में बोले PM मोदी- आपका चोकीदार चौकान्ना है, नामदार हो या उनके रागदरबारी, कोई नहीं बचेगा

इनकम टैक्स की रेड के बाद कांग्रेस के लोग कहते हैं, हम तो नेता हैं हमारे वहां क्यों रेड कर रहे हो. अरे, देश का कानून सबके लिए समान होता है. अगर मोदी गलती करता है तो मोदी के घर भी इनकम टैक्स को रेड करनी चाहिए, सबके लिए कानून समान होना चाहिए.'

सीधी में बोले PM मोदी- आपका चोकीदार चौकान्ना है, नामदार हो या उनके रागदरबारी, कोई नहीं बचेगा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो साभारः twitter/@BJP4India)
Play

नई दिल्लीः वाराणसी में अपना नामांकन दाखिल करने के बाद मध्य प्रदेश के सीधी पहुंचे प्रधानमंत्री ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार और सीएम कमलनाथ पर जमकर निशाना साधा है. जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि 'गरीब बच्चों के लिए, प्रसूता माता के पोषक आहार के लिए चौकीदार की सरकार दिल्ली से पैसे भेजती है, लेकिन वो पैसे भी मध्य प्रदेश में चोरी हो गए और यहां के लोगों ने तुगलक रोड चुनावी घोटाला कर दिया. बोरे भर-भर कर नोटें मिली हैं. इनकम टैक्स की रेड के बाद कांग्रेस के लोग कहते हैं, हम तो नेता हैं हमारे वहां क्यों रेड कर रहे हो. अरे, देश का कानून सबके लिए समान होता है. अगर मोदी गलती करता है तो मोदी के घर भी इनकम टैक्स को रेड करनी चाहिए, सबके लिए कानून समान होना चाहिए.'

उन्होंने अपने संबोधन में आगे कहा कि 'दिल्ली से लेकर भोपाल तक कांग्रेस में भ्रष्टाचार ही शिष्टाचार है. आपका ये चौकीदार चौकन्ना है. नामदार हो या उनके रागदरबारी, कोई नहीं बचेगा. देश के लोगों का जीवन सुधरे, गरीबी कम हो, किसान की दिक्कतें कम हों, ये कांग्रेस कभी नहीं चाहती. कांग्रेस ने कर्जमाफी तो नहीं की, मोदी सरकार जो आपके खाते में पैसा जमा करना चाहती है, उसको भी ये भ्रष्ट सरकार रोक रही है. किसानों को सीधी मदद के अलावा हम सिंचाई और भंडारण की भी एक मजबूत व्यवस्था खड़ी कर रहे हैं. आने वाले पांच वर्षों में ग्राम भंडारण योजना बनाने वाले हैं. गांव के पास ही भंडारण की उचित व्यवस्था किसानों को मिले.'

वाराणसी में पीएम मोदी ने 'अभिजीत मुहूर्त' में किया नामांकन, जानिए क्या है खास

पीएम ने कहा कि '2014 में 30 साल के बाद दिल्ली में पूर्ण बहुमत के साथ केंद्र सरकार बनी थी और उसमें मध्य प्रदेश का बहुत बड़ा योगदान था. इस जगह के साथ बीरबल का नाम जुड़ा है. बीरबल की खिचड़ी के बारे में देश का बच्चा-बच्चा जानता है. कांग्रेस अपने महामिलावटियों के साथ मिलकर ऐसी ही खिचड़ी पकाने की फिराक में थी, लेकिन 3 चरणों के मतदान के बाद उसको समझ आ गया है कि वंशवाद के चूल्हे में अब ताप नहीं है, इसलिए कांग्रेस की न दाल गलने वाली है, न खिचड़ी पकने वाली है.'

 Prime Minister Narendra Modi in Sidhi in Madhya Pradesh

उन्होंने कहा कि 'युवा बेटा-बेटी जो पहली बार लोकसभा चुनाव में अपना वोट डाल रहे हैं, वो 20वीं सदी की सोच के साथ जाने को तैयार नहीं. वो 21वीं सदी के सपनों को साकार करने वाला भारत चाहते हैं. आज मध्य प्रदेश में बिजली की क्या स्थिति है? कांग्रेस का वादा था बिजली का बिल करने का, और इसका तरीका उसने निकाला कि आप लोगों के घर में बिजली की सप्लाई ही कम कर दी. जितनी बिजली शिवराज जी की सरकार में मिलती थी, उससे आधी बिजली कांग्रेस सरकार देकर आपका बिजली का बिल कम कर रही है. सीधी सहित ये पूरा क्षेत्र तो पावर हब रहा है, बिजली के, बड़े-बड़े प्रोजेक्ट यहां पर हैं. बल्कि आपका ये चौकीदार जो सौर ऊर्जा पर बल दे रहा है, पूरी दुनिया में सौर ऊर्जा के लिए हम जो अभियान चला रहे हैं. उसका एक अहम सेंटर हमारा ये पूरा क्षेत्र होने वाला है.'

PM मोदी ने वाराणसी से भरा नामांकन, बोले- 'काशीवासियों का दिल से आभार'

मोदी ने कहा कि 'अभी तो वोट मिला है, पता है सामने लोकसभा का चुनाव है, उसके बावजूद भी कांग्रेस अपनी आदत से निकल नहीं पा रहे हैं और उसका ट्रेलर देख कर मन कांप उठता है कि ऐसे लोगों ने 70 सालों तक दिल्ली को कितना बर्बाद कर दिया. कांग्रेस की धोखेबाजी का एक और सबूत है कर्जमाफी का झूठ,मध्य प्रदेश में किसानों की कर्जमाफी का वादा कांग्रेस ने किया था, पर क्या कर्ज माफ हुई ? लेकिन देश में घूम-घूमकर कह रहे हैं कि कर्ज माफ कर दिया है. कांग्रेस की इतना झूठ बोलने की आदत है कि मैं तो हैरान हूं. गांव के पास ही भंडारण की उचित व्यवस्था किसानों को मिले.'

पुरुलिया लोकसभा सीट पर रहा है निर्दलीय का दबदबा, जानिए इस बार क्या कहता है समीकरण?

'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान, स्कूल और घर में शौचालय की सुविधा, मुफ्त गैस कनेक्शन, गरीबो के लिए मिल रहे घर में मालिकाना हक. कर्नाटक में मुख्यमंत्री ने कहा था कि सेना में जो जवान जाते हैं वो भूखे मरते उनके पास दो टाइम के खाने का पैसा नहीं होता इसलिए वो सेना में जाते हैं. अब आप मुझे बताइए क्या यह सेना का अपमान नहीं है, वीर जवानों का अपमान है कि नहीं, उन माताओं का अपमान है की नहीं जिन्होंने वीर बेटों को जन्म दिया. इसी सोच का परिणाम है कि कांग्रेस के राज में आतंकवादी देश में मौत का खुला खेल खेलते रहे और पाकिस्तान सिर पर नाचता रहा, लेकिन नया हिन्दुस्तान, ये सहन नहीं करेगा. वो पाताल से भी आतंकियों को खोजेगा और फिर घुसकर मारेगा.'