हेमंत करकरे देश की रक्षा करते हुए शहीद हुए, उनका सम्मान होना चाहिए: राहुल गांधी

साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने शुक्रवार को कहा था कि करकरे ने उन्हें बुरी तरह प्रताड़ित किया था इसलिए उनके दिए श्राप की वजह से वह 26-11 के आतंकी हमलों के दौरान मारे गए थे. 

हेमंत करकरे देश की रक्षा करते हुए शहीद हुए, उनका सम्मान होना चाहिए: राहुल गांधी
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो, साभार @INCIndia)

नई दिल्ली: भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर की मुंबई हमले में शहीद हुए पुलिस अधिकारी हेमंत करकरे के बारे में विवादित टिप्पणी की पृष्ठभूमि में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को कहा कि करकरे ने भारत की रक्षा करते हुए अपने प्राण न्यौछावर किए और उनका सम्मान किया जाना चाहिए।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा,‘हेमंत करकरे ने भारत की रक्षा करते हुए अपना जीवन बलिदान कर दिया। उनका सम्मान किया जाना चाहिए।’

बता दें मालेगांव बम विस्फोट मामले में आरोपी और भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने शुक्रवार को कहा था कि करकरे ने उन्हें बुरी तरह प्रताड़ित किया था इसलिए उनके दिए श्राप की वजह से वह 26-11 के आतंकी हमलों के दौरान मारे गए थे. 

प्रज्ञा मालेगांव विस्फोट मामले में आरोपी हैं। इस मामले की जांच करकरे के नेतृत्व में हुई थी। गौरतलब है कि 26 नवंबर 2008 को पाकिस्तान से आए आतंकवादियों ने मुंबई के कई स्थानों पर हमले किए थे। उसी दौरान करकरे और मुंबई पुलिस के कुछ अन्य अधिकारी शहीद हुए थे।

महबूबा ने साधा बीजेपी पर निशाना 
वहीं प्रज्ञा ठाकुर के बयान की जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी तीखी आलोचना की है. महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा, ‘ये देश के लिए सबसे बुरे दिन हैं.’ 

महबूबा ने कहा,‘मुझे लगता है कि ये हमारे देश के लिए सबसे बुरे दिन हैं कि आप हेमंत करकरे जैसे शहीद के खिलाफ ऐसी भाषा का इस्तेमाल करने वालों को उम्मीदवार बना रहे हैं. महबूबा ने कहा कि बीजेपी ठाकुर जैसी उम्मीदवार को खड़ा करके देश की जनता को क्या संदेश देना चाहती है.