मोदी मेरे पिता का अपमान करते हैं, लेकिन मैं उनके परिवार का अपमान नहीं करुंगा: राहुल

राहुल गांधी ने कहा,‘हम किसी से नफरत नहीं करते. हिन्दुस्तान के सब लोग हमारे हैं. '

मोदी मेरे पिता का अपमान करते हैं, लेकिन मैं उनके परिवार का अपमान नहीं करुंगा: राहुल
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी एवं जीएसटी से लाखों लोग बेरोजगार हुए हैं और छोटे एवं मध्यम दुकानदार एवं व्यापारी परेशान हैं. (फोटो साभार @INCIndia)

उज्जैन: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेरे पिता का अपमान करते हैं, दादी और परदादा के बारे में बोलते हैं लेकिन मैं उनके परिवार और उनके माता-पिता का अपमान कभी नहीं करुंगा.

वर्ष 2018 के विधानसभा चुनावों की ओर इशारा करते हुए राहुल ने कहा कि हमने मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में प्यार से उनको (बीजेपी) हराया और 2019 में हो रहे लोकसभा चुनाव में भी हम प्यार से उनको हराने जा रहे हैं.

'हम किसी से नफरत नहीं करते'
उज्जैन लोकसभा सीट के कांग्रेस उम्मीदवार बाबूलाल मालवीय के पक्ष में तराना कस्बे में चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए राहुल ने कहा,‘हम किसी से नफरत नहीं करते. हिन्दुस्तान के सब लोग हमारे हैं. नरेंद्र मोदी जी नफरत से बात करते हैं. मेरे पिता का अपमान करते हैं, दादी-परदादा के बारे में बोलते हैं मगर मैं कभी भी नरेंद्र मोदी के परिवार के बारे में, उनके माता-पिता के बारे में नहीं बोलूंगा.’’ 

उन्होंने कहा, ‘मैं आरएसएस, बीजेपी का आदमी नहीं हूं, मैं कांग्रेस का आदमी हूं. और जितना भी क्रोध और जितनी भी नफरत मोदी जी ने फेंकी, मैं उनको वापस प्यार से दूंगा. मैं उनसे गले मिलकर झप्पी देकर प्यार दूंगा.’

राहुल ने नीमच में एक रैली में प्रधानमंत्री के उस बयान का मखौल उड़ाया जिसमें मोदी ने कहा था कि बालाकोट हवाई हमले के दौरान बादल छाए रहने से भारतीय वायुसेना के विमानों को रडार से बचने में मदद मिली. उन्होंने ने कहा कि तब तो मोदी जी जब हिन्दुस्तान में बारिश एवं तूफान आते हैं तो सारे हवाई जहाज रडार से गायब हो जाते होंगे.

'नरेंद्र मोदी जी के आजकल के इंटरव्यू देखिए' 
राहुल ने कहा कि आजकल मोदी आम, बादलों एवं कुर्ता पर बातें करते हैं लेकिन देश जिन चीजों पर उन्हें सुनना चाहता है, उस पर वह चुप हैं. बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार के साथ मोदी के इंटरव्यू की ओर इशारा करते हुए राहुल ने कहा,‘नरेंद्र मोदी जी के आजकल के इंटरव्यू देखिए. नरेंद्र मोदी जी देश को बताएंगे - मैं आम को इस तरह से खाता हूं. मैं पेड़ पर चढ़कर आम को लेकर आता हूं और आम को इस तरह से छिलता हूं. फिर नरेंद्र मोदीजी कहेंगे, देखो मेरा कुर्ता देखो. मैंने कुर्ते की स्लीव को काटा, क्योंकि मैं सूटकेस में जगह बनाना चाहता था.’

'नरेंद्र मोदीजी, आम खाना मत सिखाइए' 
उन्होंने कहा,‘अरे नरेंद्र मोदीजी, आम खाना मत सिखाइए. कुर्ता काटना मत सिखाइए. आप लोगों को बताइये कि आपने रोजगार देने, भ्रष्टाचार रोकने, कालाधन विदेशों से वापस लाने एवं किसानों को उनके उपज का सही दाम दिलाने के बारे में क्या किया? देश के लोग इस बारे में जानना चाहता है. लेकिन मोदीजी अब इनके बारे में बात नहीं करते हैं.’ गौरतलब है कि मोदी ने अक्षय कुमार को दिए साक्षात्कार में कहा था कि बचपन से उन्हें आम खाना पसंद है और आज भी है.

नोटबंदी एवं जीएसटी से देश की अर्थव्यस्था खराब होने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने नोटबंदी और जीएसटी लागू करके पिछले पांच साल में जो अन्याय किया, उसको ठीक करने के लिये केन्द्र में कांग्रेस की सरकार बनने पर न्यूनतम आय योजना (न्याय) लागू की जाएगी. इस योजना में देश के पांच करोड़ गरीब परिवारों को 6000 रुपये प्रतिमाह के हिसाब से 72,000 रुपये साल में दिये जायेंगे.

'नोटबंदी एवं जीएसटी से लाखों लोग बेरोजगार हुए'
राहुल ने कहा कि नोटबंदी एवं जीएसटी से लाखों लोग बेरोजगार हुए हैं और छोटे एवं मध्यम दुकानदार एवं व्यापारी परेशान हैं. उन्होंने न्याय योजना को देश की अर्थव्यवस्था के लिये ‘जम्प स्टार्ट’ बताया.

राहुल ने मध्यप्रदेश में किसानों का फसल ऋण माफ योजना लागू करने का जिक्र करते हुए कहा कि बीजेपी इस बारे में झूठ फैला रही है. उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ को मंच पर बुलाया और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के दो निकट रिश्तेदारों के नाम बताते हुए उनके फसल ऋण इस योजना में कांग्रेस सरकार द्वारा माफ करने का दावा किया.

उन्होंने कहा,‘हमने केवल किसानों के फसल ऋण माफ नहीं किये बल्कि शिवराज सिंह चौहान के परिवार के लोगों सहित बीजेपी के हजारों लोगों के ऋण माफ किए हैं.’