close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: कांग्रेस के घोषणा पत्र पर बोले सचिन पायलट, 'यह है क्रांतिकारी दस्तावेज'

पीसीसी में आयोजित प्रेसवार्ता में सचिन पायलट ने कहा, घोषणा पत्र में न्याय योजना के जरिए गरीब की जिंदगी में बड़े बदलाव लाने के लिए क्रांतिकारी कदम उठाया है. 

राजस्थान: कांग्रेस के घोषणा पत्र पर बोले सचिन पायलट, 'यह है क्रांतिकारी दस्तावेज'
फाइल फोटो

जयपुर: प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कांग्रेस के घोषणा पत्र को ऐतिहासिक दस्तावेज बताया है. सचिन पायलट ने कहा कि पिछले 1 साल से देश के सभी राज्यों से दिए गए सुझावों के आधार पर घोषणा पत्र को तैयार किया गया है. घोषणा पत्र में समाज के विभिन्न वर्गों से लिए फीडबैक को भी शामिल किया गया है. सचिन पायलट ने कहा की घोषणा पत्र देश की दिशा और दशा बदलने वाला होगा और कांग्रेस की नई योजना गरीबी के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक साबित होगी.

पीसीसी में आयोजित प्रेसवार्ता में सचिन पायलट ने कहा, घोषणा पत्र में न्याय योजना के जरिए गरीब की जिंदगी में बड़े बदलाव लाने के लिए क्रांतिकारी कदम उठाया है. कांग्रेस भाजपा की तरह 15 लाख रुपए खाते में डलवाने का झूठा वादा नहीं करती बल्कि 72,000 रुपए सालाना देने की जिम्मदारी लेगी. सचिन पायलट ने कहा घोषणापत्र में पहली बार ऐसा हुआ है जब किसान के लिए रेलवे की तर्ज पर अलग से किसान बजट बनेगा और यह कदम वाकई किसान कि देश में खस्ता हालत को सुधारने की दिशा में बड़ा कदम होगा.

पायलट ने कहा, कांग्रेस सरकारों के समय देश में हरित क्रांति और श्वेत क्रांति हुई थी और राहुल गांधी के नेतृत्व में एक बार फिर से देश में रोजगार क्रांति होगी. देश के सभी सरकारी पदों पर कांग्रेस रोजगार देगी. कांग्रेस के सत्ता में आने पर लोकसभा के पहले सत्र में 33 फीसदी महिला रिजर्वेशन का बिल लाया जाएगा. पायलट ने घोषणा पत्र को लेकर उठ रहे सवालों के जवाब में कहा, घोषणा पत्र में कहीं नहीं लिखा है कि कांग्रेस अफ़्फ़सा कानून को खत्म करेगी बल्कि उसमें तीन प्रावधानों के रिव्यू की बात कही गई है जिन का दुरुपयोग किया जा रहा है.

इसके अलावा कश्मीर पॉलिसी के सवाल पर पायलट ने कहा, कांग्रेस ने कश्मीर में हमेशा माहौल को बेहतर बनाने की दिशा में काम किया है. लेकिन भाजपा ने अपना एक उप मुख्यमंत्री बनाने के प्रयासों में कश्मीर पॉलिसी से ही समझौता कर लिया और आप देख रहे हैं पिछले सालों में कश्मीर के हालात इतने खराब हुए हैं. सचिन पायलट ने राजस्थान में आरएलडी के भाजपा के गठबंधन के सवाल पर कहा हर नेता को हर पार्टी को गठबंधन का अधिकार है हम इसका स्वागत करते हैं लेकिन देश में नरेंद्र मोदी की सरकार के खिलाफ एक मजबूत गठबंधन तैयार हो चुका है और जनता इस गठबंधन के साथ है. राजस्थान में परिवारवाद के खिलाफ बयान देने के बाद वैभव गहलोत को टिकट देने के सवाल पर सचिन पायलट ने कहा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पुत्र होने के चलते वैभव गहलोत को टिकट नहीं दिया गया उनकी योग्यता के चलते यह फैसला लिया गया है जिताऊ कैंडिडेट है और पार्टी में बतौर महासचिव भी लंबे समय से काम कर रहे थे.