close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

एक्जिट पोल से हुए खुश लेकिन धारा 370 के सवाल को टाल गए रामविलास पासवान

लोकसभा चुनाव खत्म हो चुका है और अब नतीजों का इंतजार है. एक्जिट पोल में साफ हो गया है कि एनडीए पूर्ण बहुमत के साथ सरकार में आ रही है. 

एक्जिट पोल से हुए खुश लेकिन धारा 370 के सवाल को टाल गए रामविलास पासवान
रामविलास पासवान ने भी एक्जिट पोल पर भरोसा जताया. (फाइल फोटो)

पटना: लोकसभा चुनाव खत्म हो चुका है और अब नतीजों का इंतजार है. एक्जिट पोल में साफ हो गया है कि एनडीए पूर्ण बहुमत के साथ सरकार में आ रही है. रामविलास पासवान ने भी एक्जिट पोल पर भरोसा जताया. लेकिन नई सरकार में धारा 370 लागू होने के सवाल को वो टाल गए. 

एक्जिट पोल के आने के बाद एनडीए में खासा उत्साह है. एलजेपी सुप्रीमो रामविलास पासवान ने कहा है कि उन्होंने पहले ही दावा किया था कि एनडीए को तीन सौ से ज्यादा सीटें आएंगी. बिहार में एनडीए 40 की 40 सीटें जीत रही है. चुनाव खत्म होने से पहले विपक्षी दलों की एकता को लेकर हुई कवायद पर रामविलास पासवान ने चुटकी ली है. पासवान ने कहा है कि हमारे गांव की एक कहावत है कि भुस्कोल विद्यार्थी का बस्ता भारी होता है यानि जो विद्यार्थी कमजोर होते हैं उनका बैग भारी होता है. विपक्ष की हालत भी कुछ ऐसी ही है.

 

रामविलास पासवान ने कहा कि इस चुनाव में पांच मुद्दे ही हावी रहे. पहला मुद्दा राष्ट्रहित, दूसरा सामाजिक न्याय, तीसरा उंची जाति के गरीबों को आरक्षण, पावर टू पूअर का मुद्दा छाया रहा. जिसके तहत गरीब आदमी को घर, शौचालय, चुल्हा, सस्ते दर पर अनाज, आयुष्मान योजना का लाभ शामिल है. सेना के पराक्रम का भी फायदा मिला. पटना में जल्द मेट्रो रेल का भी सपना पूरा होगा.

इधर रामविलास पासवान ने ठंढ के मौसम में चुनाव कराये जाने की वकालत की है. रामविलास पासवान ने कहा है कि आम लोगों की राय भी यही है. चुनाव अक्टूबर, नवंबर, जनवरी, फरवरी या मार्च तक होना चाहिए और चुनाव एक महीने के अंदर ही हो जाना चाहिए. पासवान ने कहा कि मतदाताओं में जागरुकता आयी है. लेकिन गर्मी की वजह से वोटिंग में परेशानी होती है. कई लोग तो लाईन में खडे ही मर गये. चुनावी सभाओं में नेता के सर पर छतरी होता है लेकिन आम लोगों को परेशानी होती है. चुनाव के बाद मैं सभी दलों से आग्रह करुंगा कि चुनाव ठंढ में कराये जाने को लेकर सफल प्रयास करें.