close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सीतापुर: दो नदियों को पार कर ग्रामीणों ने दिया वोट, लोकतंत्र को ऐसे किया सलाम

शारदा और घाघरा नदी को मतदाताओं ने नदी में चलकर और नाव पर बैठकर इन मतदाताओं ने 3 किलोमीटर का सफर तय कर प्राथमिक विद्यालय असईपुर सहित अन्य कई बूथों में जाकर मतदान किया. 

सीतापुर: दो नदियों को पार कर ग्रामीणों ने दिया वोट, लोकतंत्र को ऐसे किया सलाम
मतदाताओं ने दो नदियों को पार कर मतदान किया.

सीतापुर, (राजकुमार दीक्षित): उत्तर प्रदेश के सीतापुर में लोकतंत्र लोकतंत्र की ऐसी तस्वीरें आई, जिसे हर कोई सलाम करना चाहेगा. सीतापुर लोकसभा क्षेत्र के रेउसा विकासखंड के बाढ़ कटान प्रभावित इलाके आधा दर्जन गांवों के 2900 मतदाताओं ने दो नदियों को पार कर मतदान किया. शारदा और घाघरा नदी को मतदाताओं ने नदी में चलकर और नाव पर बैठकर इन मतदाताओं ने 3 किलोमीटर का सफर तय कर प्राथमिक विद्यालय असईपुर सहित अन्य कई बूथों में जाकर मतदान किया. 

यूपी के सीतापुर के रेउसा विकासखंड के अति पिछड़े इलाके के गांजर में बाढ़ और कटान से प्रभावित गांव गौलोक कोडर, पच्चीसा दर्जिन पुरवा, मेंड़ाई पुरवा के करीब 29 सौ मतदाताओं ने लोकतंत्र में एक मिसाल पेश की है. मतदाताओं ने शशारदा और घाघरा नदी पार कर करीब 3 किलोमीटर नदी में पैदल चलकर और नाव पर सवार होकर अपने मत का प्रयोग किया और उन लोगों के लिए एक मिसाल पेश की, जो मतदान का बहिष्कार करते हैं. 

लोकतंत्र की इस तस्वीर ने साबित कर दिया है कि देशहित में मतदान कितना जरूरी है. वहीं, जब ग्रामीणों की इस समस्या पर एसडीएम बिसवा किंशूक श्रीवास्तव से बात की गई तो उन्होंने कहा कि अगर मतदाताओं को ऐसी समस्या हुई है तो उन कर्मचारियों के विरुद्ध उचित कार्रवाई की जाएगी.