झारखंड के चार सीटों पर 5 बजे तक 64.62 फीसदी मतदान, जमशेदपुर में सबसे अधिक वोटिंग

 झारखंड में 4 लोकसभा सीट धनबाद, गिरिडीह, जमशेदपुर और सिंहभूम में मतदान खत्म.

झारखंड के चार सीटों पर 5 बजे तक 64.62 फीसदी मतदान, जमशेदपुर में सबसे अधिक वोटिंग
झारखंड में सबसे अहम धनबाद सीट को इस चरण में माना जा रहा है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

झारखंड के तीसरे चरण के चुनाव में चार सीटों पर मतदान खत्म हो गया है. इन चारों सीटों पर मतदान 4 बजे तक मतदान का समय था. हालांकि चार बजे तक पहुंचने वाले सभी मतदाताओं को वोटिंग करने का मौका दिया गया. 5 बजे तक चार सीटों पर कुल मतदान प्रतिशत 64.62 रहा. जिसमें गिरिडीह में 63.73, धनबाद में 61.9, जमशेदपुर में 66.44 और सिंहभूम में 67.79 फीसदी मतदान किया गया.

>> अब तक के आंकड़ों के अनुसार झारखंड के गिरिडीह में 50.64, धनबाद में 44.90, जमशेदपुर में 47.34, सिंहभूम में 46.35 फीसदी मतदान हुआ है. 

>> झारखंड में 11बजे तक 31.25 फीसदी मतदान रिकॉर्ड किया गया. गिरिडीह में 34.43, धनबाद में 29.03, जमशेदपुर में 29.33 और सिंहभूम में 30.80 फीसदी मतदान हुआ है. 

>>झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री शिबू सोरेन भी हेलीकॉप्टर से बोकारो सेक्टर 1 में सेंट जेवियर स्कूल बूथ पर मतदान करने पहुंचे. इस दौरान उन्होंने कहा कि महागठबंधन पिछली बार से अधिक सीटें जीतेगा. 

 

>> झारखंड में अब तक 14.44 फीसदी मतदान हुआ है. धनबाद में 12.08, गिरिडीह में 13.92, जमशेदपुर में 17.28 और सिंहभूम में 15.15 फीसदी मतदान हुआ है. 

लोकसभा चुनाव 2019 के छठे चरण में मतदान की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. वहीं, झारखंड में 4 लोकसभा सीट धनबाद, गिरिडीह, जमशेदपुर और सिंहभूम में आज मतदान की प्रक्रिया चल रही है. सीएम रघुवर दास ने अपने परिवार के साथ जमशेदपुर में वोट डाला. उन्होंने लोगों से मतदान करने की अपील की.

झारखंड में सबसे अहम धनबाद सीट को इस चरण में माना जा रहा है जिस पर पूरे देश की नजर है. धनबाद से कांग्रेस के नेता कीर्ति आजाद और बीजेपी के नेता पीएन सिंह के बीच कड़ी टक्कर है. 

कीर्ति आजाद के लिए भी धनबाद में चुनाव लड़ना कड़ी चुनौती है. क्योंकि कीर्ति आजाद को टिकट मिलने के बाद पार्टी के नेता ही उनका विरोध कर रहे थे. इसके अलावा सिंहभूम सीट से बीजेपी के लक्ष्मण गिलुआ और कांग्रेस से गीता कोड़ा मैदान में है. गीता कोड़ा मधु कोड़ा की पत्नी हैं.

झारखंड में गिरिडीह सीट भी काफी अहम है. यहां एनडीए गठबंधन के सहोयगी दल आजसू के एक मात्र उम्मीदवार चंद्र प्रकाश चौधरी मैदान में है. इसलिए आजसू ने अपनी पूरी ताकत इस सीट को जीतने के लिए झोंक दी है.