close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

BJP विधायक सुरेंद्र सिंह के विवादित बोल, राहुल-प्रियंका की तुलना रावण-शूर्पणखा से की

सुरेंद्र सिंह ने कहा कि इस बार के चुनाव में राहुल गांधी रावण की भूमिका में है वहीं नरेंद्र मोदी राम की भूमिका में है. उन्होंने कहा कि मान के चलिएगा कि लंका विजय होकर रहेगी. 

BJP विधायक सुरेंद्र सिंह के विवादित बोल, राहुल-प्रियंका की तुलना रावण-शूर्पणखा से की
फोटो सौजन्य: ANI

नई दिल्लीः अपने बयानों को लेकर अक्सर विवादों में रहने वाले बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने और विवादित बयान दिया है. बलिया जिले की बैरिया सीट से विधायक ने इस बार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तुलना रावण से की है और उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा को शूर्पणखा को बता दिया. इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस को टूटी हुई नाव बताया. बीजेपी विधायक ने कहा कि इस बार के चुनाव में राहुल गांधी रावण की भूमिका में है वहीं नरेंद्र मोदी राम की भूमिका में है. उन्होंने कहा कि मान के चलिएगा कि लंका विजय होकर रहेगी. 

बीजेपी विधायक ने कहा, 'जिस तरह से लंका दहन से पहले रावण ने अपनी बहन (शूर्पणखा) को भेजा था, उसी प्रकार राहुल गांधी ने भी यूपी में अपनी बहन प्रियंका को भेजा है. इससे कुछ नहीं होगा मोदी की जीत तय है.'

प्रियंका गांधी को बताया सीजनल और मायावती को बताया रीजनल नेता
25 जनवरी को विधायक सुरेंद्र सिंह ने प्रियंका गांधी पर तंज कसते हुए उनको सीजनल नेता बता डाला था. उन्होंने कहा था कि राजनीति में तीन तरह के नेता होते हैं. सीजनल, रीजनल और ओरिजनल, जो चुनाव से 6 महीने पहले राजनीति में सक्रिय होते हैं और उसके बाद इटली जाकर राजनीति करते है, वो सीजनल नेता है. उन्होंने प्रियंका गांधी को भी सीजनल नेता हैं. वहीं, मायावती को रीजनल नेता बताते हुए कहा कि कुछ लोग राजनीति में अपराध करके या राजनीति करते हैं, जिनका उद्देश्य पैसा ही कामना है, वो रीजनल नेता हैं.

'बीएसपी के नेता बिकाऊ माल हैं'
17 जनवरी को सुरेंद्र सिंह ने कहा था कि सपा-बसपा गठबंधन के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के बाद प्रधानमंत्री का ख्वाब देख रही है. उन्होंने कहा कि मायावती प्रधानमंत्री क्या ग्राम प्रधान भी नहीं बन सकती है. 2014 में हुए लोकसभा चुनाव का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि पिछली बार बसपा ने डबल जीरो पाया था, अबकी बार जीरो स्क्वायर मिलेगा. 

बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह यहीं नहीं रुके उन्होंने बसपा के नेताओं को बिकाऊ बताया और दावा किया कि बसपा के लोग मायावती से टिकट खरीदकर दो-चार भाई चुनाव जीत भी गए तो जीतने के तुरंत बाद वो पीएम मोदी के साथ आ जाएंगे, क्योंकि वो सब बिकाऊ माल है. 

'हिन्दुओं को सम्मान के लिए योगी-मोदी और बीजेपी को चुनना चाहिए'
25 दिसंबर को बीजेपी विधायक सुरेन्द्र सिंह ने जनता से अपील की है कि बिजली पानी और विकास पर वोट ना करके हिन्दुओ को सम्मान के लिए योगी मोदी और बीजेपी को चुनना चाहिए . उन्होंने कहा कि भारत की धरती पर जहां मुस्लिम समुदाय और आतंकी सोच के लोग वर्चस्व में है वहां हिन्दुयों का जीना मुश्किल हो गया था.

'संविधान से बड़ा भगवान है...भगवान राम का मंदिर बनना चाहिए' 
18 नवंबर को राम मंदिर मुद्दे पर बोलते हुए सुरेंद्र सिंह ने कहा था 'मोदी जी जैसा महान प्रधानमंत्री हो, वो भी हिंदुवादी और योगी जी जैसा महान हिंदुवादी नेता मुख्‍यमंत्री हो, उस समय भी भगवान राम टेंट में रहें इससे बड़ा दुर्भाग्‍य भारत और हिंदु समाज के लिए नहीं होने वाला. ऐसी परिस्थिति बनाई जानी चाहिए कि राम मंदिर अयोध्‍या में बने.'

सुरेंद्र सिंह ने आगे कहा 'राम मंदिर निर्माण को लेकर नया विधेयक लाकर...संविधान से बड़ा भगवान होता है. विधायक होते हुए भी हम स्‍पष्‍ट रूप से कह रहे हैं कि भगवान संविधान से परे की चीज हैं, आस्‍था की चीज हैं. उस पर तनिक भी विलंब नहीं होना चाहिए, भगवान राम का मंदिर बनना चाहिए.'