ममता बनर्जी बोलीं, 'BJP ने किया आडवाणी का अपमान, लेकिन वह भूल गए कि ओल्‍ड इज गोल्‍ड होता है'

देश के गृह मंत्री एवं उप प्रधानमंत्री के तौर पर सेवाएं दे चुके 91 वर्षीय आडवाणी गांधीनगर सीट से छह बार लोकसभा चुनाव जीते थे. 

ममता बनर्जी बोलीं, 'BJP ने किया आडवाणी का अपमान, लेकिन वह भूल गए कि ओल्‍ड इज गोल्‍ड होता है'
ममता बनर्जी ने कहा कि मेरा मानना है कि ओल्ड इज गोल्ड होता है और हर कोई एक दिन बूढ़ा होगा. (फोटो साभार : Reuters)

कोलकाता: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के लिए बीजेपी ने पार्टी के संस्थापक सदस्य रहे लालकृष्ण आडवाणी समेत कई वरिष्ठ नेताओं को टिकट नहीं दिया है. इस घोषणा के बाद से ही विपक्षी पार्टियों ने बीजेपी पर निशाना साधना शुरू कर दिया है. इसी क्रम में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि एलके आडवाणी बीजेपी के वास्तविक मार्गदर्शक थे. बीजेपी का नेतृत्व नेताओं की नई पौध के आगे पुराने दिनों को भूल गया है. 

ममता बनर्जी ने कहा कि मेरा मानना है कि ओल्ड इज गोल्ड होता है और हर कोई एक दिन बूढ़ा होगा. उन्होंने कहा कि यह आडवाणी का अपमान है और आडवाणी के लिए उन्हें दुख होता है. हालांकि, बनर्जी ने कहा कि यह मेरी व्यक्तिगत राय है और वह इससे असहमत हो सकते हैं. दरअसल, पार्टी के संस्थापक सदस्य और लंबे समय तक बीजेपी प्रमुख रहे लालकृष्ण आडवाणी को लोकसभा चुनाव की टिकट नहीं मिली है. बता दें कि बीजेपी आडवाणी के स्थान पर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को गांधीनगर से उम्मीदवार बनाया है.

देश के गृह मंत्री एवं उप प्रधानमंत्री के तौर पर सेवाएं दे चुके 91 वर्षीय आडवाणी गांधीनगर सीट से छह बार लोकसभा चुनाव जीते थे. 1984 के लोकसभा चुनाव में केवल दो लोकसभा सीटें जीतने वाली बीजेपी के उदय का श्रेय आडवाणी को दिया जाता है. उन्होंने 2014 में नरेंद्र मोदी को पार्टी का प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने पर आपत्ति जताई थी.