ईरानी कप: रायुडू के शतक से शेष भारत ने कसा शिकंजा

अम्बाती रायुडू के नाबाद शतक की मदद से शेष भारत ने शनिवार को यहां ईरानी कप क्रिकेट मैच के चौथे दिन स्टंप तक रणजी ट्राफी चैम्पियन मुंबई पर शिकंजा कस लिया।

मुंबई : अम्बाती रायुडू के नाबाद शतक की मदद से शेष भारत ने शनिवार को यहां ईरानी कप क्रिकेट मैच के चौथे दिन स्टंप तक रणजी ट्राफी चैम्पियन मुंबई पर शिकंजा कस लिया।
रायुडू की 118 रन की नाबाद पारी से शेष भारत ने चौथे दिन का खेल खत्म होने तक चार विकेट पर 296 रन बनाकर ओवरआल बढ़त 413 रन की कर ली और लगभग ट्राफी पर अपने हाथ जमा लिये जो वे 25वीं बार जीतेंगे।
इस मैच का परिणाम लगभग तय ही है, पहली पारी के शतकवीर सुरेश रैना मैच में दूसरा सैकड़ा लगाने की कोशिश में हैं और 40 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं।
पांचवें और अंतिम दिन यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या राष्ट्रीय चयनकर्ता टेस्ट टीम में रैना की वापसी करायेंगे या फिर रायुडू को चुनकर कुछ अलग करना चाहेंगे जिन्होंने पहली पारी में भी अर्धशतक जमाया है।
इसके अलावा रायुडू का बड़ौदा के लिये रणजी सत्र भी अच्छा रहा है और उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत ए की तरफ से शतकीय पारी भी खेली थी।
शेष भारत की टीम एक समय 69 रन पर तीन विकेट खोकर जूझ रही थी। इसके बाद रायुडू ने पारी को संभाला और चौथे विकेट के लिये मनोज तिवारी के साथ 140 रन की भागीदारी की। तिवारी ने 69 रन की पारी खेली। सत्ताईस वर्षीय रायुडू ने 217 गेंद की नाबाद पारी में नौ चौके और चार छक्के जमाये। यह उनका प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 14वां शतक है।
शेष भारत ने एक विकेट पर 27 रन से आगे खेलना शुरू किया, सुबह के सत्र में टीम रनों के लिये जूझ रही थी क्योंकि मुंबई के तेज गेंदबाज काफी मूवमेंट हासिल कर रहे थे।
रात्रि प्रहरी एस श्रीसंत (18) कवर प्वाइंट पर खड़े क्षेत्ररक्षक रोहित शर्मा के सीधे हिट से रन आउट हुए।
पहली पारी में शतक जड़ने वाले मुरली विजय भी धवल कुलकर्णी और शरदुल ठाकुर के सामने अच्छी तरह नहीं खेल पा रहे थे। वह ठाकुर की आउटस्विंगर पर रोहित को आसान कैच दे बैठे और टीम ने 67 रन पर तीसरा विकेट खो दिया।
इसके बाद रायुडू और तिवारी ने शुरू में मुश्किलों से उबरते हुए पारी को आगे बढ़ाया। इस बीच तिवारी को चार रन पर जीवनदान भी मिला।
तिवारी चाय के बाद के सत्र में स्पिनर विशाल दाभोलकर की गेंद पर बल्ला छुआकर वसीम जाफर को कैच देकर पवेलियन पहुंचे।
उन्होंने 211 मिनट की पारी में 166 गेंद का सामना किया और तीन छक्के तथा चार चौके जमाये। रायुडू और रैना ने स्टंप से पहले 136 गेंद में 89 रन जोड़ लिये थे। (एजेंसी