पाक क्रिकेटरों को BPL में खेलने देने के लिए बाध्य नहीं: पीसीबी

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के पाकिस्तान के प्रस्तावित दौरे से हटने से नाराज पीसीबी ने बांग्लादेश प्रीमियर लीग (बीपीएल) में अपने खिलाड़ियों को खेलने की स्वीकृति देने से जुड़ा नीतिगत फैसला नहीं किया है।

कराची : बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के पाकिस्तान के प्रस्तावित दौरे से हटने से नाराज पीसीबी ने बांग्लादेश प्रीमियर लीग (बीपीएल) में अपने खिलाड़ियों को खेलने की स्वीकृति देने से जुड़ा नीतिगत फैसला नहीं किया है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष जका अशरफ ने साफ कर दिया है कि बांग्लादेश के दो बार पाकिस्तान का दौरा करने की प्रतिबद्धता से पीछे हटने के बाद वह अपने खिलाड़ियों को इस लीग में खेलने की स्वीकृति देने के लिए नैतिक रूप से बाध्य नहीं हैं।
अशरफ ने कहा, ‘‘बीसीबी के दूसरी बार अपनी टीम भेजने से इनकार करने के बाद हम नैतिक रूप से बाध्य नहीं हैं। हमें अब फैसला करने से पहले खिलाड़ियों की प्रतिबद्धता और उन पर पड़ रहे भार पर गौर करना होगा।’’ पीसीबी अध्यक्ष ने हालांकि संकेत दिए कि पीसीबी विशेष परिस्थितियों में अपने रुख की समीक्षा कर सकता है। उन्होंने कहा, ‘‘अगर बांग्लादेश बोर्ड कोई प्रतिबद्धता करने को तैयार है तो हम इस पर गौर कर सकते हैं।’’
पीसीबी के विश्वस्त सूत्रों ने बताया कि बोर्ड ने बीसीबी को पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि पाकिस्तानी खिलाड़ियों को बीपीएल में खेलने के लिए तभी अनापत्ति प्रमाण पत्र दिया जाएगा जब दोनों बोर्ड से बीच कोई लिखित समझौता होगा। सूत्र ने कहा, ‘‘बीसीबी ने हमें कहा है कि वे कुछ दिन में जवाब देंगे। लेकिन बोर्ड करार चाहता है जिसके तहत बीसीबी न सिर्फ छोटी श्रृंखला के लिए अपनी टीम पाकिस्तान भेजने को राजी हो बल्कि शुरूआती पाकिस्तान सुपर लीग के लिए अपने कुछ खिलाड़ियों को भी भेजे।’’ (एजेंसी)