वॉटसन की वापसी को लेकर आशान्वित हैं क्लार्क

आस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के कप्तान माइकल क्लार्क ने कहा है कि वह तमाम नाराजगी के बावजूद हरफनमौला खिलाड़ी शेन वॉटसन के चौथे टेस्ट के लिए भारत वापसी को लेकर आशान्वित हैं।

मोहाली (पंजाब) : आस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के कप्तान माइकल क्लार्क ने कहा है कि वह तमाम नाराजगी के बावजूद हरफनमौला खिलाड़ी शेन वॉटसन के चौथे टेस्ट के लिए भारत वापसी को लेकर आशान्वित हैं।
क्लार्क ने कहा है कि वॉटसन बतौर उपकप्तान चौथे टेस्ट में खेलेंगे। वॉटसन को टीम प्रोटोकॉल के उल्लंघन को लेकर तीसरे टेस्ट मैच से बाहर कर दिया गया था। टीम प्रबंधन के इस फैसले से नाराज होकर वॉटसन स्वदेश लौट गए हैं। वैसे वह यह कहकर स्वदेश गए हैं उनकी गर्भवती पत्नी को उनकी जरूरत है लेकिन साथ ही उन्होंने कहा भी कहा है कि इस घटना के बाद वह अपने टेस्ट करियर को लेकर चिंतन करेंगे।
चौथा टेस्ट 22 मार्च से नई दिल्ली में खेला जाना है और वॉटसन को तय कार्यक्रम के अनुसार इस मैच के लिए भारत लौटना है। मौजूदा हालात इसकी इजाजत नहीं देते लेकिन कप्तान क्लार्क इससे इतर सोचते हैं। क्लार्क ने कहा है कि वॉटसन टीम के उपकप्तान हैं और इस लिहाज से टीम में उनका अहम स्थान है और वह खुद भी इसकी अहमियत समझते हैं। क्लार्क ने कहा कि मेरी नजर में वॉटसन चौथे टेस्ट के लिए जरूर भारत लौटेंगे। वह टीम के उपकप्तान हैं और इस लिहाज से टीम में उनका अहम स्थान है और वह खुद भी इसकी अहमियत समझते हैं। मेरी उनसे बात हुई है और उन्होंने साफ किया है कि वह सिर्फ अपने बच्चे के जन्म की वजह से स्वदेश लौटे हैं। उनके और हम सबके लिए यह रोमांचक बात है।
मैं आशा करता हूं कि वह जल्द ही टीम में होंगे और उपकप्तान के तौर पर दिल्ली में होने वाले चौथे टेस्ट मैच में खेल रहे होंगे। मेरी नजर में तो हालात यही है। टीम भी यही सोचती है। वॉटसन अभी क्या सोच रहे हैं यह तो वही बता सकते हैं। उल्लेखनीय है कि सोमवार को कोच मिकी अर्थर और क्लार्क ने एक बड़ा फैसला लेते हुए प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वाले चार खिलाड़ियों-वॉटसन, जेम्स पेटिंसन, उस्मान ख्वाजा और मिशेल जानसन को तीसरे टेस्ट से बाहर कर दिया था। अब आस्ट्रेलिया के पास 14 मार्च से शुरू हो रहे चौथे टेस्ट के लिए 13 खिलाड़ी ही उपलब्ध हैं। (एजेंसी)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.